टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने आज (मंगलवार) को 1 अक्टूबर से अपना वाहनों के दाम में बढ़ोतरी की घोषणा की। ऑटो निर्माता कंपनी ने कहा कि वाणिज्यिक गाड़ियों की कीमतों में 2 प्रतिशत की वृद्धि करेगा। इसे मॉडल और वेरिएंट के आधार पर लागू किया जाएगा। टाटा ने धातु की कीमतों में उछाल के कारण दाम बढ़ाने का निर्णय लिया है। गौरतलब है कि इस महीने के शुरुआत में मारुति सुजुकी (Maruti Suzuki) ने सेलेरियो (Celerio) को छोड़कर सभी वाहनों के दाम बढ़ा दिए हैं। मारुति ने 1.9 फीसद की वृद्धि की है।

टाटा मोटर्स ने एक प्रेस विज्ञप्ति में इस कदम के पीछे का कारण स्टील और कीमती धातुओं जैसी वस्तुओं की लागत में वृद्धि का हवाला दिया। इसमें कहा गया है कि लागत में निरंतर वृद्धि के कारण कंपनी को अपने उत्पादों की कीमत में बढ़ोतरी के माध्यम से इसका एक हिस्सा देना पड़ता है। टाटा ने कहा कि वह अपने ग्राहकों और बेड़े के मालिकों के लिए स्वामित्व की न्यूनतम कुल लागत देने के अपने प्रयास जारी रखे हुए है।

वहीं सोमवार को टाटा मोटर्स का स्टॉक 2021 में करीब 63 प्रतिशत बढ़ चुका है, जो सेंसेक्स के 22.5 प्रतिशत रिटर्न को आसानी से पछाड़ रहा है। इस दौरान बीएसई ऑटो इंडेक्स सिर्फ 10.2 फीसदी चढ़ा है। पिछले महीने टाटा मोटर्स ने 29,781 वाणिज्यिक वाहन बेचे, जो सालाना आधार पर 66 प्रतिशत की वृद्धि को दिखाता है।

कंपनी ने 58.9 फीसद वार्षिक आधार पर 57,995 इकाइयों की कुल बिक्री के साथ स्ट्रीट उम्मीदों को पीछे छोड़ दिया। इसकी यात्री वाहनों की बिक्री 51 प्रतिशत बढ़कर 28,018 इकाई रहीं। वहीं मंगलवार को शेयर बाजार में टाटा मोटर्स के शेयर 2 फीसदी की गिरावट के साथ 293.1 रुपए पर बंद हुआ।

Posted By: Shailendra Kumar