नई दिल्ली। अमेरिकी कार कंपनी फोर्ड ने ऑटोमोबाइल कंपनी महिंद्रा से हाथ मिलाया है। दोनों कंपनियों के बीच सहयोग की बातें पहले से चल रही थी। दोनो कंपनियों ने सूचना देते हुए बताया कि वे मिलकर एक स्पोर्ट्स यूटिलिटी व्हिकल (एसयूवी) बनाएंगी। इनके द्वारा बनाई गई एसयूवी बेहद उत्कृष्ट किस्म की होगी, जिसे भारत के साथ ही अंतरराष्ट्रीय बाजार को ध्यान में रख कर तैयार किया जाएगा।

एसयूवी मिड साइज की होगी और उसका प्लेटफार्म और इंजन महिंद्रा का होगा और इंजीनियरिंग व कमर्शियल क्षमता फोर्ड की होगी। दोनो कंपनियों की तरफ से जारी बयान से साफ होता है कि ये लंबी अवधि की साझेदारी की तरफ बढ़ने को तैयार है। पिछले साल दोनो कंपनियों ने कहा था कि वे रणनीतिक साझेदारी करेंगे। साझा बयान में यह भी कहा कि फोर्ड के भावी वाहनों में इस्तेमाल के लिए संयुक्त तौर पर पेट्रोल इंजन बनाने पर काम हो रहा है।

दोनों कंपनियों ने साल 2020 में टेलीमैटिक्स कंट्रोल यूनिट भी बनाने का ऐलान किया गया। अब इन्होंने संयुक्त तौर पर एसयूवी बाजार में उतारने का ऐलान कर दिया। फोर्ड भारत में वर्ष 1995 से ही काम कर रही है, लेकिन यहां इसकी बाजार हिस्सेदारी तीन फीसद ही है। अमेरिका के बाहर सबसे ज्यादा कर्मचारियों वाली इकाई भारत में ही है, जहां 14 हजार कर्मचारी काम करते है। कंपनी की एसयूवी इकोस्पोर्ट ने भारत में मिड सेग्मेंट एसयूवी का एक नया बाजार बनाया है।