Airtel, Voda Idea tariffs: आर्थिक परेशानी का सामना कर रहीं टेलिकॉम (Telecom) कंपनियों, एयरटेल (Airtel) और वोडा आइडिया (Voda Idea) ने अपने टैरिफ बढ़ाने का फैसला किया है। नई दरों का खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन बढ़े हुए चार्ज 1 दिसंबर से लागू होंगे। इस संबंध में सोमवार को पहले वोडाफोन आइडिया ने घोषणा की, जिसका घाटा बढ़कर 50,921 करोड़ रुपए हो गया है। इसके तुरंत बाद भारती एयरटेल की ओर से भी ऐलान कर दिया गया। एयरटेल की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'हम समझते हैं कि ट्राई (TRAI) द्वारा बहुत जल्द भारतीय मोबाइल सेक्टर में मूल्य निर्धारण में तर्कसंगतता लाने के लिए बातचीत शुरू किए जाने की संभावना है।'

वोडाफोन के सीईओ ने कहा था, भारतीय बाजार में टिकना मुश्किल

भारत में वोडाफोन की आर्थिक स्थिति कितनी खराब है, अंदाज हाल ही में जारी कंपनी के सीईओ कंपनी सीईओ निक रीड के बयान से लगाया जा सकता है कि उनकी कंपनी की स्थिति नाजुक है और सरकार की मदद के बिना कंपनी का टिका रहना मुश्किल है। निक ने कहा था, अगर भारत में सरकार टेलीकॉम ऑपरेटर्स पर ज्यादा टैक्स और चार्ज लगाती रहेगी तो उनका भविष्य अधर में रहेगा।

बता दें, केंद्र सरकार ने वोडाफोन-आइडिया को लाइसेंस फीस और स्पेक्ट्रम यूजेज चार्ज के तौर पर करीब 40,000 करोड़ रुपए चुकाने को कहा था। मामला सुप्रीम कोर्ट गया जहां कंपनी को कोई राहत नहीं मिली।

भारती एयरटेल के शेयरों में भारी उछाल

इससे पहले दिन में भारती एयरटेल के शेयर 21 महीने के उच्च स्तर 420 रुपये पर पहुंच गए। सोमवार को कंपनी के शेयर में 7 प्रतिशत का उछाल गया जबकि शुक्रवार को 20 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई थी।

यह भी पढ़ें; नुसरत जहां आईसीयू में भर्ती, जानिए क्या हुआ है TMC की खूबसूरत सांसद को

Posted By: Arvind Dubey