मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। सोने के दामों में कमी आ गई है। बुधवार को भारत में सोने की कीमतें घट गईं। 38,574 के उच्‍च स्‍तर तक बढ़ने के बाद सोना अब 38,310 का हो गया है। जहां तक चांदी की बात है, चांदी के दामों में कुछ इजाफा हुआ और बढ़त के बाद इसका भाव 45, 943 रुपए रहा। दिल्ली के बाजार में सोने के दाम 39,325 प्रति 10 ग्राम हो गए। चांदी 47,330 रुपए प्रति किलोग्राम तक कारोबार कर रही थी। वैश्विक बाजारों में सोना हाजिर 0.1% बढ़कर 1,505.95 डॉलर प्रति औंस हो गया। चीन और अमेरिका के ट्रेड वॉर के चलते इस पर प्रभाव पड़ रहा है।

चीनी कंपनियों के अलावा उम्मीद है कि दोनों देश व्यापार के विवाद को हल कर सकते हैं। वैश्विक बाजारों में कमजोर वैश्विक विकास के रूप में सोने की कीमतों में 17 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। यूएस-चीन ट्रेड वॉर और केंद्रीय बैंकों द्वारा मौद्रिक नीति को आसान बनाने से सोने की सेफ-हेवन अपील बढ़ गई है। बुलियन-समर्थित ईटीएफ में बढ़ती आमदनी ने भी कीमत का समर्थन किया है।

ब्लूमबर्ग ने बताया कि गोल्ड-समर्थित ईटीएफ की होल्डिंग अब 2012 में बने रिकॉर्ड से सिर्फ 35 टन कम है। सोना तब लाभदायक होता है जब इस पर ब्‍याज दरें कम हों और निवेशक जोखिम लेने से किनारा करते हैं। फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पॉवेल ने मंगलवार को ब्याज दर में एक और कटौती की संभावना के बाद संकेत दिया कि एक रिपोर्ट में दिखाया गया है कि विशाल अमेरिकी सेवा क्षेत्र में विकास धीमा है।

भारत में यह स्थिति है कि रुपये-डॉलर विनिमय दर के अलावा घरेलू कीमत में सोने पर 12.5% आयात कर लगता है और 3% GST भी शामिल है। घरेलू कीमतों में पिछले सप्ताह के 36,800 रुपए की बढ़ोतरी से यह आशंका जताई जा रही है कि इस बार धनतेरस पर बाजारों में सोने की मांग प्रभावित हो सकती है।