मुंबई, कोटक महिंद्रा ग्रुप (कोटक) ने हाल ही में शुरू की गई अपनी सी.एस.आर. प्रयास 'कोटक शिक्षा निधि' के अंतर्गत पहले दो लाभार्थियों की आज घोषणा की - कोटक शिक्षा निधि उन छात्रों को अपनी शिक्षा पूरी करने के लिए आर्थिक सहायता देती है जिनके माता-पिता में से किसी एक अभिभावक/माता-पिता और/या परिवार के कमाने वाले मुख्य सदस्य की कोविड-19 के कारण मृत्यु हो चुकी है।

वनिशा पाठक और विवान पाठक- भाई-बहन, जिनकी उम्र क्रमश: 17 और 11 वर्ष है, भोपाल के सरकारी स्कूल में पढ़ रहे हैं, उन्होंने 2021 में अपने माता-पिता को कोविड-19 के कारण खो दिया था। कोटक शिक्षा निधि* का लाभ उठाने के लिए उनके आवेदन के आधार पर, कोटक को यह घोषणा करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि वनिशा और विवान दोनों को शैक्षणिक वर्ष 2021-22 से कोटक शिक्षा निधि के प्राप्तकर्ताओं के रूप में चुना गया है।

Buddy4Study^ - कोटक शिक्षा निधि के लिए कोटक एजुकेशन फाउंडेशन के कार्यान्वयन सहयोगी ने 30 अक्टूबर, 2021 को उनके अभिभावक के बैंक खाते में आर्थिक सहायता राशि जमा की है।

कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड के संयुक्त अध्यक्ष और समूह के मुख्य सी.एस.आर. अधिकारी, रोहित राव ने कहा, “हमारी संवेदना और विचार वनिशा और विवान पाठक और उनके परिवार के साथ हैं। हम वनिशा और विवान दोनों के दृढ़ता और कोविड-19 महामारी के दौरान अपने माता और पिता की अपूरणीय क्षति के बाद भी अपनी पढ़ाई को जारी रखने की उनकी इच्छा की सराहना करते हैं। हम दोनों छात्रों को उनकी शिक्षा पूरी करने में मदद करने में सक्षम होने के लिए खुश हैं और हम अधिक से अधिक बच्चों को सहयोग प्रदान करने का निष्ठापूर्ण प्रयास करते हैं ताकि उनकी डिप्लोमा या स्नातक तक की शिक्षा बिना किसी बाधा के जारी रहे।

Posted By: Arvind Dubey