अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बयान के बाद ईरान के साथ इसके तनाव में कमी आई है। इसका असर आज शेयर बाजार नजर आया। Sensex 634 अंकों की तेजी के साथ 41,452 पर बंद हुआ, वहीं निफ्टी में 190 अंकों की बढ़त दर्ज की गई और यह 12,215 पर बंद हुआ। इससे पहले Sensex 500 अंकों की तेजी के साथ खुला। निफ्टी में भी 151 अंकों की बढ़त रही। सुबह 9.35 बजे Sensex 416 अंकों की तेजी के साथ 41,236 रहा। इसके बाद 11.24 बजे Sensex की बढ़त करीब 510 अंकों की रही और यहां 41,316 पर ट्रेडिंग हुई। इसी समय निफ्टी 146 अंक ऊपर (12,173 अंक) रहा। वहीं 124 अंकों की बढ़त के साथ निफ्टी 12,147 पर रहा। डॉलर के मुकाबले रुपया भी 31 पैसे मजबूत हुआ है। अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 71.43 प्रति डॉलर के भाव पर खुला। बुधवार को रुपया 71.69 प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था। वहीं अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में प्रति बैरल 4.84 डॉलर की कमी देखी गई है।

इससे पहले बुधवार को इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर ईरान के मिसाइल हमले के बाद बुधवार को दुनिया भर के शेयर बाजारों में गिरावट दे गई थी। बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला Sensex दिन में कारोबार के दौरान एक समय करीब 400 अंक तक नीचे आ गया था। बाद में नुकसान की भरपाई हुई और आखिरी में Sensex 51.73 अंक नीचे 40,817.74 अंक पर बंद हुआ था। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 27.60 अंक के नुकसान से 12,025.35 अंक पर बंद हुआ था।

वहीं निवेश के सुरक्षित विकल्प की मांग बढ़ने से सोना और अमेरिकी सरकार के बांड में तेजी आई। इनमें रही गिरावट सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में एलएंडटी में सबसे अधिक 2.19 प्रतिशत की गिरावट रही। ONGC, टाइटन, सनफार्मा, हीरो मोटोकॉर्प और इन्फोसिस के शेयर भी गिरावट के साथ बंद हुए।

वहीं मुनाफा कमाने वालों में भारती एयरटेल, टीसीएस, अल्ट्राटेक सीमेंट, बजाज फाइनेंस और आईसीआईसीआई बैंक शामिल रहे। घरेलू मोर्चे पर आर्थिक वृद्घि दर के अग्रिम अनुमान के अनुसार चालू वित्त वर्ष में देश की सकल घरेलू उत्पाद (GDP) की वृद्घि दर पांच प्रतिशत रहेगी, जो इसका 11 साल का निचला स्तर होगा। इसके चलते भी घरेलू निवेशकों ने सतर्कता बरती।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket