Reliance Right entitlement shares: रिलायंस के राइट एंटाइटलमेंट शेयर की ट्रेडिंग पहले दिन ही बहुत बड़ी हिट रही। ट्रेडिंग के पहले दिन बुधवार को रिलायंस का राइट एंटाइटलमेंट शेयर एनएसई पर 39.53 फीसदी ऊपर बंद हुआ। सुबह ये 158.05 रुपए पर खुला था। निवेशकों ने रिलायंस के राइट एंटाइटलमेंट शेयर को हाथो-हाथ लिया है। रिलायंस के राइट एंटाइटलमेंट की मांग इतनी थी कि ट्रेडिंग वॉल्यूम में ये रिलायंस के शेयर से भी आगे निकल गया। NSE पर आज रिलायंस के 2.91 करोड़ राइट एंटाइटलमेंट शेयर की ट्रेडिंग हुई। वहीं रिलायंस के 2.55 करोड़ शेयर ही ट्रेड हुए।

अब तक शेयर होल्डर जो राइट्स इश्यू में अप्लाई नहीं करते थे उनके राइट एंटाइटलमेंट लेप्स हो जाते थे या किसी और को फ्री में ट्रांसफर करने होते थे। देश के इतिहास में पहली बार स्टॉक एक्सचेंज पर राइट एंटाइटलमेंट की ट्रेडिंग शुरू हुई। इसकी शुरुआत रिलायंस के राइट एंटाइटलमेंट से हुई है। बुधवार के दिन रिलायंस के एंटाइटलमेंट के लिए ट्रेडिंग प्राइस बैंड निचले स्तर पर 91.15 रुपए और ऊंचे स्तर पर 212.65 रुपए था।

रिलायंस के राइट्स इश्यू के शेयर लेने के लिए एंटाइटलमेंट खरीदने की आखिरी तारीख 29 मई है। 2 जून तक ये राइट एंटाइटलमेंट निवेशक के अकाउंट में आ जाएंगे और वो पहली किश्त का पेमेंट 3 जून तक कर सकते हैं। सेबी के नियमों के मुताबिक राइट्स इश्यू के आखिरी दिन से 4 दिन पहले राइट एंटाइटलमेंट की ट्रेडिंग बंद हो जाती है। इन शेयरों में इंट्रा डे ट्रेडिंग नहीं की जा सकती है। इसमें सिर्फ एंटाइटलमेंट की डिलीवरी मिलने पर ही ट्रेडिंग की जा सकती है।

रिलायंस के राइट्स इश्यू की कीमत 1257 रुपए प्रति शेयर है। इसके लिए 25 फीसदी की पहली किश्त (314.25 रुपए) को निवेशकों को 3 जून को देना है। इसके बाद 314.25 रुपए की अगली किश्त निवेशक मई 2021 में देंगे, बचा हुआ 50 फीसदी हिस्सा (628.50 रुपए) नवंबर 2021 तक चुकाना है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना