Share Market News : भारतीय शेयर बाजार ने तेजी का रुख कायम रखते हुए एक और रिकॉर्ड बनाया है। सेंसेक्स ने पहली बार 59,000 के स्तर को पार किया। 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स गुरुवार को 417.96 अंक यानी 0.71 प्रतिशत मजबूत होकर 59,141.16 के नए रिकार्ड पर बंद हुआ। सरकार ने गुरुवार को टेलीकॉम, बैकिंग, ऑटो सेक्टर के लिए कई राहत एवं उपायों की घोषणा की, जिसकी वजह से चलते शेयर बाजार में जमकर खरीदारी हुई और सूचकांक लगातार तीसरे दिन हरे निशान में बंद हुए। इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 110.05 अंक यानी 0.63 प्रतिशत की उछाल के साथ 17,629.50 अंक की नई ऊंचाई पर बंद हुआ। इंट्राडे के दौरान यह 17,644.60 अंक तक चला गया था।

क्यों है बाजार में तेजी का रुख?

ट्रेड एनालिस्ट के मुताबिक आर्थिक क्षेत्र में कई नये सुधारों की वजह से शेयर बाजार नई ऊंचाई पर पहुंचे हैं। बाजार में आई तेजी का मुख्य कारण बैंकों खासकर सरकारी बैंकों में जोरदार लिवाली रही। बैंकिंग सेक्टर में आने वाले दिनों में भी तेजी देखने को मिल सकती है। खास बात ये है कि विदेशी शेयर बाजारों के मुकाबले में भी भारतीय बाजार में इस साल काफी तेजी रही है। सेंसेक्स और निफ्टी ने इस साल करीब 23 से 25 प्रतिशत का रिटर्न दिया है, जबकि MSCI वर्ल्ड इंडेक्स ने 16 प्रतिशत और MSCI EM ने 0.2 प्रतिशत का निगेटिव रिटर्न दिया है।

शेयर बाजार के जानकारों के मुताबिक शेयर बाजार मजबूत स्थिति में दिख रहा है और इसमें आई तेजी के आगे भी बरकरार रहने की संभावना है। भारत जैसे इमर्जिंग मार्केट में विदेशी निवेश बढ़ा है। विदेशी संस्थागत निवेशों (FII) ने बुधवार को 232.84 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे थे। वैसे कुछ विश्लेषकों के मुताबिक शेयर बाजार में आने वाले दिनों में उतार-चढ़ाव भी देखने को मिल सकता है। अगले हफ्ते अमेरिका के फेडरल रिजर्व बैंक की बैठक होनेवाली है, जिसमें ब्याज दरों से जुड़ा अहम फैसला लिया जा सकता है। ऐसे में निवेशकों को सावधान रहने की जरुरत है।

Posted By: Shailendra Kumar