मुंबई Share market created record । भारत में लगातार विदेशी निवेश के कारण शेयर मार्केट लगातार नए रिकॉर्ड बना रहा है। शुक्रवार को शेयर मार्केट ने 60000 का आंकड़ा पार कर लिया। सेंसेक्स के इतिहास में यह अभी तक की सबसे अधिक तेजी है। बीएसई (BSE) शेयर मार्केट ने जनवरी 2021 में 50000 का रिकॉर्ड आंकड़ा छुआ था और सिर्फ 8 महीने में ही 60000 का आंकड़ा पार कर लिया है। वहीं बीते 6 साल में BSE सूचकांक दोगुना हो गया है। शुक्रवार को बाजार खुलते ही भारतीय शेयर बाजार ने नया रिकॉर्ड बनाते हुए 60 हजार का आंकड़ा पार कर लिया। पहली बार BSE सेंसेक्स ने 60 हजार का आंकड़ा छू लिया। सुबह मार्केट खुलते ही सेंसेक्स 273 पॉइंट उछलकर 60 हजार के पार चला गया।

4 मार्च 2015 को BSE इंडेक्स ने 30000 अंक का आंकड़ा छुआ था, तब रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने रेपो रेट पॉलिसी में बदलाव करते हुए दरों में कटौती की थी और इसका उत्साह बाजार में देखने को मिला है। इसके बाद जब साल 2019 में भाजपा सरकार एक बार फिर पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में लौटी थी तो इसका उत्साह भी शेयर मार्केट में देखने को मिला था। साल 2019 में शेयर मार्केट ने 40000 का आंकड़ा छुआ था।

बीते 10 माह में 91 फीसदी छलांग

गौरतलब है कि साल 2020 में कोरोना महामारी के कारण लगाए गए देशव्यापी लॉकडाउन के कारण निवेशकों को भारी नुकसान झेलना पड़ा था। मार्च 2020 के अंत में सेंसेक्स में भारी गिरावट दर्ज की थी और तमाम कंपनियों के शेयर गिर गए थे। इसके बाद लॉकडाउन में छूट मिलने के बाद से शेयर मार्केट लगातार उछाल मार रहा है और बीते 10 माह में करीब 91 फीसदी की छलांग लगाई है।

Posted By: Sandeep Chourey