मुंबई। लगातार छह दिन की गिरावट के बाद बुधवार को शेयर बाजार ने ऊंची छलांग लगाई। बैंकिंग सेक्टर के शेयरों में सबसे ज्यादा तेजी दर्ज की गई, लेकिन आईटी शेयर बिकवाली के दबाव में रहे। सेंसेक्स 645.97 अंक यानी 1.72 प्रतिशत उछाल के साथ 38,177.95 पर बंद हुआ। निफ्टी 11,313.30 के स्तर पर रहा, जिसमें 186.90 अंक या 1.68 प्रतिशत तेजी दर्ज की गई। बीएसई का मिडकैप इंडेक्स 1.38 प्रतिशत और स्मॉलकैप इंडेक्स 0.66 प्रतिशत चढ़ा। आईटी शेयरों को छोड़कर बाकी सभी सेक्टोरल इंडेक्स बढ़त पर बंद हुए।

प्रमुख सूचकांक (तेजी/गिरावट प्रतिशत में)

  • ऑटो +1.43
  • मेटल +2.10
  • फार्मा +1.21
  • रियल्टी +2.04
  • फाइनेशिंयल +3.3
  • तेल-गैस +0.84
  • आईटी -0.77

बैंकिंग शेयरों में उछाल

निफ्टी पर सरकारी बैंकों का इंडेक्स 3.10 प्रतिशत और प्राइवेट बैंकों का इंडेक्स 3.47 प्रतिशत बढ़त पर बंद हुए। बैंक निफ्टी 3.67 फीसदी की बढ;त के साथ 28,786 के स्तर पर बंद हुआ है। बैंक निफ्टी 3.67 फीसदी बढ़त के साथ 28,786 के स्तर पर बंद हुआ है। इस इंडेक्स के 12 में से 11 शेयरों में तेजी दर्ज की गई। तेजी की वजहमाना जा रहा है कि सुस्त क्रेडिट ग्रोथ के बावजूद दूसरी तिमाही में बैंकों का मुनाफा बेहतर रह सकता है। यह त्योहारों का भी सीजन होता है, जिसमें क्रेडिट ग्रोथ बढ़ती है। लोग लोन लेकर भी खरीदारी करते हैं। क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल भी बढ़ जाता है। ऐहतियात बरतने की सलाह विश्लेषकों ने निवेशकों को मौजूदा परिस्थिति में फूंक-फूंककर कदम रखने की सलाह दी है। वजह यह है कि अमेरिका और चीन के बीच जारी ट्रेड वॉर के चलते बाजार में तेजी बरकरार रहने को लेकर संशय है। दोनों देश ट्रेड डील को लेकर गुरुवार को फिर बैठक करेंगे।

ये शेयर सबसे ज्यादा चढ़े

बीएसई पर इंडसइंड बैंक के शेयर में सर्वाधिक 5.45 प्रतिशत, भारती एयरटेल में 5.20 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक में 4.88 प्रतिशत, एसबीआई में 4.78 प्रतिशत और महिंद्रा एंड महिंद्रा में 4.25 प्रतिशत तेजी दर्ज की गई।