नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने मंगलवार को कहा कि चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में उसका शुद्ध लाभ चार गुने से अधिक बढ़कर 471.25 करोड़ रुपये का रहा। एक साल पहले की समान तिमाही में बैंक का शुद्ध लाभ 111.78 करोड़ रुपये था।

बीओबी ने कहा कि इस दौरान उसकी कुल आय 12,976.28 करोड़ रुपये से बढ़कर 14,562.85 करोड़ रुपये हो गई। आलोच्य तिमाही में बैंक का ग्रॉस एनपीए घटकर कुल कर्ज का 11.01 फीसद रह गया, जो एक साल पहले 11.31 फीसद था।

बैंक का नेट एनपीए या फंसे कर्ज का अनुपात भी आलोच्य तिमाही में घटकर कुल कर्ज का 4.26 फीसद रह गया, जो एक साल पहले 4.97 फीसद था। ओरिएंटल बैंक को 145 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ सार्वजनिक क्षेत्र के

ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) ने मंगलवार को कहा कि अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही में उसे 145 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ। एक साल पहले की समान तिमाही में बैंक को 1,985 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। इस दौरान बैंक की आय 4,756 करोड़ रुपये से बढ़कर 5,128 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

एक्सिस बैंक का शुद्ध लाभ दोगुने से अधिक बढ़ा

निजी क्षेत्र के एक्सिस बैंक ने मंगलवार को कहा कि अक्टूबर-दिसंबर 2018 तिमाही में उसका शुद्ध लाभ दोगुने से अधिक बढ़कर 1,680.85 करोड़ रुपये पर पहुंच गया।

एक साल पहले की समान तिमाही में बैंक को 726.44 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। आलोच्य तिमाही में बैंक की शुद्ध ब्याज आय 18 फीसद बढ़कर 5,604 करोड़ रुपये पर पहुंच गई।

31 दिसंबर 2018 को बैंक का नेट एनपीए घटकर कुल कर्ज का 2.36 फीसद रह गया, जो एक साल पहले 2.56 फीसद था।

Posted By:

  • Font Size
  • Close