बीजिंग। अमेरिका के साथ ट्रेड वॉर का असर चीन की अर्थव्यवस्था पर साफ नजर आने लगा है। जून तिमाही में चीन की आर्थिक विकास दर 27 साल के निचले स्तर पर आ गई।

30 जून को खत्म तिमाही में चीन में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्घि दर घटकर 6.2 प्रतिशत रह गई। इससे पहले 1992 में चीन की आर्थिक विकास दर इस स्तर तक नीचे आई थी। सोमवार को जारी सरकारी आंकड़ों के मुताबिक एक तिमाही पहले चीन की विकास दर 6.4 प्रतिशत थी।

चीन के 'नेशनल ब्यूरो ऑफ स्टैस्टिक्स' ने एक बयान जारी करके कहा है कि चीन के आर्थिक विकास पर दूसरी छमाही में भी दबाव बना रहेगा।

दरअसल, दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था अभी बहुत जटिल हालात में है। अनिश्चितता बढ़ती जा रही है और वैश्विक अर्थव्यवस्था की रफ्तार भी सुस्त पड़ती नजर आ रही है।

राहत के भी संकेत

हाल ही में चीन और अमेरिका ने इस बात पर सहमति जताई है कि पिछले कई महीनों से चले आ रहे ट्रेड वॉर पर अस्थायी तौर पर रोक लगाई जाएगी। दोनों देश आपसी व्यापार एक बार फिर पटरी पर लाने की योजना बना रहे हैं।

अमेरिका के साथ समझौते के आसार कम

ह्वाइट हाउस के ट्रेड एडवाइजर पीटर नावारो ने शुक्रवार को सीएनबीसी को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि 'यूएस ट्रेड रीप्रेजेंटेटिव' रॉबर्ट लाइटहाइजर बीजिंग का दौरा करेंगे। हालांकि विश्लेषकों को इस बात को लेकर आशंका है कि दोनों देशों के बीच फिलहाल कोई समझौता हो पाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network