मुंबई। अर्थव्यवस्था सुस्त पड़ने के बीच ज्यादातर कंपनियां खर्चों में कटौती की राह चल रही हैं, लेकिन दुनिया की सबसे बड़ी कोयला खनन कंपनी कोल इंडिया बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की भर्ती करने की योजना बना रही है।

कोल इंडिया सभी खाली पदों को भरने की प्रक्रिया में है। पिछले साल भी कंपनी ने 1,200 लोगों की नियुक्ति की थी। इस साल कोल इंडिया 9,000 नई भर्तियां करने की तैयारी में है।

इसमें से करीब 4,000 लोगों की नियुक्ति एग्जिक्यूटिव लेवल पर होगी। कंपनी के एक अधिकारी ने बताया कि कोल इंडिया के 900 एग्जिक्यूटिव्स की नियुक्ति जूनियर कैटेगरी में विज्ञापन और इंटरव्यू के जरिए होगी। 400 की नियुक्ति कैंपस सलेक्शन के जरिए और 100 एग्जिक्यूटिव्स की नियुक्ति मेडिकल स्टाफ के तौर पर होगी।

अधिकारी ने बताया कि कोल इंडिया ने पहले ही 400 एग्जिक्यूटिव्स की भर्तियां कर ली है, जिनमें ज्यादातर डॉक्टर हैं। 75 अन्य की नियुक्ति भी हो गई है और जल्दी ही वे ज्वाइन करेंगे। 2,200 अन्य एक्जिक्यूटिव्स की नियुक्ति परीक्षा के जरिए की जाएगी।

इनमें से 2,300 नौकरियां उन लोगों को दी जाएंगी, जिनकी जमीन का अधिग्रहण कंपनी ने अपने प्रोजेक्ट के लिए किए हैं। 2,350 नौकरियां उन परिवारों के सदस्यों को दी जाएगी, जिनकी मौत ड्यूटी पर हो गई थी। इसके साथ ही 400 नान-टेक्निकल पोस्ट्स पर भी भर्तियां की जाएंगी।

एक दशक की सबसे बड़ी भर्तियां

देश में किसी सरकारी कंपनी की तरफ से की जाने वाली पिछले एक दशक की यह सबसे बड़ी भर्ती है। एग्जिक्यूटिव लेवल की भर्तियां कोल इंडिया करेगी, जबकि कर्मचारियों और टेक्निकल वर्कर की नियुक्ति कोल इंडिया की सहायक कंपनियां करेंगी।

रेलवे के बाद सबसे ज्यादा कर्मचारी

कोल इंडिया में इंडियन रेलवे के बाद सबसे ज्यादा कर्मचारी हैं। कंपनी के पास करीब 2,80,000 कर्मचारी हैं। इनमें से 18,000 एग्जिक्यूटिव लेवल के हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना