नई दिल्ली (एजेंसी)। खाद्य नियामक एफएसएसएआइ खाद्य तेलों में विटामिन ए और डी मिलाना अनिवार्य करने पर विचार कर रहा है। भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआइ) के सीईओ अरुण सिंघल ने कहा कि इस कदम से देश के लोगों का बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित होगा।

फूड फोर्टिफिकेशन रिसोर्स सेंटर (एफएफआरसी) द्वारा खाद्य तेलों की गुणवत्ता सुधारने के विषय पर आयोजित वेबिनार में उन्होंने कहा कि खाद्य तेलों को पोषण से युक्त बनाने से सामाजिक-आर्थिक रूप से पिछड़े वर्गों को भी पोषण मिल सकेगा। उन्होंने कहा, 'भारत में कुपोषण को लेकर स्थिति गंभीर है। बहुत से लोगों में कुछ जरूरी पोषण तत्वों की कमी भी देखी जाती है। देश में बहुत बड़ी आबादी है जो विटामिन ए और डी की कमी का सामना कर रही है। इनकी कमी सेहत पर बहुत भारी पड़ती है।' हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) को मजबूत करने में विटामिन ए और डी की अहम भूमिका रहती है। कोरोना संक्रमण के मौजूदा माहौल में इम्यून सिस्टम का बेहतर रहना और भी अहम हो गया है। सिंघल ने कहा कि खाद्य तेलों को पोषणयुक्त बनाने के लिए उद्योग जगत को एफएफआरसी की तरफ से जरूरी तकनीकी सहयोग दिया जाएगा।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Republic Day
Republic Day