GST Council: देश में फैले कोरोना महामारी से आम जन-जीवन बहुत अधिक मात्रा में प्रभावित हुआ है। कई घरों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। आम-जनता को कोरोना से लड़ना काफी मंहगा पड़ रहा है। ऐसी स्थिति को देखते हुए कोविड से जुड़े जरूरी सामान और ब्लैक फंगस की दवा पर टैक्स की दरों में कटौती पर फैसला लेने के लिए 12 जून को केन्द्रीय वित्त मंत्री सीतारमण की अध्यक्षता में वस्तु एवं सेवा कर से जुड़े सभी जरूरी फैसले लेने वाली काउंसिल यानी जीएसटी काउंसिल की बैठक होने जा रही है।

जानकारी के लिए बतादें कि परिषद ने 28 मई को हुई पिछली बैठक में पीपीई किट, मास्क और टीके सहित कोविड संबंधी सभी जरूरी वस्तुओं पर टैक्स राहत देने के लिए जीओएम (मंत्रियों का एक समूह) का गठन किया था। इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट 7 जून को ही सबमिट कर दी थी। अधिकारियों का कहना है कि इस रिर्पोट पर विचार करते हुए 12 जून की बैठक का ऐलान किया गया है। वहीं कुछ राज्यों के वित्त मंत्रियों ने कोविड संबंधी आवश्यक वस्तुओं पर दर में कटौती की वकालत की है। बुधवार को उत्तर प्रदेश राज्य के वित्त मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने एक सवाल के जवाब में कहा था कि राज्य सरकार मरीजों की सुविधा के लिए कोविड संबंधी जरूरी वस्तुओं पर करों में कटौती के पक्ष में है। हालांकि वह जीएसटी दरों के संबंध में जीएसटी परिषद के निर्णय को स्वीकार करेगी।

गठित मंत्री समूह ने कोविड से राहत दिलाने वाले सामान पर जीएसटी पर से रियायत दिए जाने के मामले में सुझाव दिए हैं जिसमें चिकित्सा ग्रेड की ऑक्सिजन, पल्स ऑक्सीमीटर, हैंड सेनिटाइजर, ऑक्सीजन उपचार संबंधी उपकराणों जैसे कंसंट्रेट, वेंटीलेटर, पीपीई किट, एन-95 और सर्जिकल मास्त के साथ-साथ तापमान मापने वाले उपकरणों पर से जीएसटी दरों में छूट मिल सकती है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags