हिंदुजा ग्रुप द्वारा समर्थित और भारतीय मूल के न्यूरोसाइंटिस्ट द्वारा स्थापित यूनिकॉर्न, माइंडमेज - जो एआई-संचालित न्यूरोटेक्नोलॉजी के विकास में दुनिया में अग्रणी है - अमेरिका और भारत में अपने परिचालन का विस्तार कर रहा है। माइंडमेज टेक्नोलॉजी दुनिया भर में 130 से अधिक शीर्ष चिकित्सा केंद्रों पर उपयोग हेतु अपनाई जा जा चुकी है। भारत में, यह शीर्ष सरकारी अस्पताल एम्स, नई दिल्ली सहित एक दर्जन से अधिक संस्थानों में संपूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी, माइंडमेज इंडिया के माध्यम से तैनात है।

अमेरिकी बाजार में अपनी उपस्थिति गहरी बनाने के लिए, इसने पोस्ट-एक्यूट हॉस्पिटल पेशेंट केयर में अग्रणी, अमेरिका के विब्रा हेल्थकेयर के साथ साझेदारी की है। इस साझेदारी के जरिए माइंडमेज के डिजिटल हेल्थ टेक्नोलॉजी प्लेटफार्मों (माइंडपॉड® और माइंडमोशन®गो) को चुनिंदा विब्रा अस्पतालों के भीतर रोगियों के लिए प्रयोग हेतु लगाया जाएगा। विब्रा हेल्थकेयर अमेरिका के 19 राज्यों में 90 से अधिक स्पेशियाल्टी अस्पतालों और ट्रांजिशनल केयर यूनिट्स/फैसिलिटीज का संचालन करता है। लगभग 100 मिलियन अमेरिकी न्यूरोलॉजिकल बीमारी से पीड़ित हैं।

माइंडमेज के संस्थापक, अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, डॉ. तेज टाडी ने कहा, “माइंडमेज गंभीर न्यूरोलॉजिकल समस्याओं वाले रोगियों के लिए प्रामाणिक समाधानों के विकास के माध्यम से देखभाल की निरंतरता के साथ न्यूरो रिकवरी को फिर से परिभाषित करने के लिए प्रतिबद्ध है। हम चिकित्सकों को शक्तिशाली, डिजिटल रूप से सक्षम, अत्याधुनिक उपकरण प्रदान करने पर जोर दे रहे हैं, जबकि रोगियों और उनके परिवारों को आसान उपयोग वाले आकर्षक और सुलभ समाधानों के साथ सशक्त बना रहे हैं। विब्रा में, हमने मस्तिष्क स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण परिवर्तन के साथ-साथ रोगी परिणामों में सार्थक सुधार करने के लिए प्रतिबद्ध और वास्तविक क्षमता से संपन्ना एक विश्व स्तरीय भागीदार पाया है।"

माइंडमेज न्यूरोलॉजिकल बीमारियों जैसे स्ट्रोक/गंभीर मस्तिष्कीय चोट, रीढ़ की हड्डी की चोट, और पार्किंसंस रोग आदि के लिए उत्कृष्ट सॉफ्टवेयर - आधारित हस्तक्षेप और आकलन प्रदान करता है। साथ ही यह पुरानी बीमारियों के दीर्घकालिक प्रबंधन के दौरान रोगी की क्रियाओं की निगरानी और माप करने वाली क्षमताएं भी प्रदान करता है। गेम–आधारित डिजिटल थेरेपी के उपयोग ने पारंपरिक/वर्तमान प्रोटोकॉल्स के मुकाबले काफी बेहतर परिणामों के साथ पुनर्वास को और अधिक रुचिकर बनाया है (उदाहरण के लिए - ऐसे रोगी जो व्हीलचेयर पर थे और फिर से चलना-फिरना शुरू करने के लिए संघर्ष कर रहे थे, वे अब चल रहे हैं और (लगभग) सामान्य जीवन जी रहे हैं जिसका श्रेय माइंडमेज को जाता है।

विब्रा हेल्थकेयर के संस्थापक, अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, ब्रैड होल्लिंगर ने कहा, "माइंडमेज ने दुनिया भर के देशों में न केवल अपनी तकनीकी क्षमताओं की शक्ति बल्कि स्ट्रोक और अन्य न्यूरोलॉजिकल समस्याओं वाले रोगियों के लिए देखभाल के वास्तविक तरीकों का उपयोग करने में अपने अनुभव के साथ भी हमारी टीम को प्रभावित किया है।"

Posted By: Arvind Dubey

  • Font Size
  • Close