नई दिल्ली। भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लिए मोदी सरकार लगातार प्रयास कर रही है वहीं इस दिशा में एक बड़ी और अच्छी खबर आई है। इसके अनुसार, भारत यूके और फ्रांस को पीछे छोड़ते हुए दुनिया की 5वीं बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। यह दावा एक अमेरिकी थिंक टैंक की रिपोर्ट में किया गया है। World Population Review नाम के इस थिंक टैंक ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भारत एक ओपन मार्केट इकोनॉमी के रूप में विकसित हो रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2.94 ट्रिलियन डॉलर की जीडीपी के साथ भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है। पिछले साल इसने यूके और फ्रांस को इस मामले में पीछे छोड़ा है। इसने यूके जिसकी अर्थव्यवस्था 2.85 करोड़ है और फ्रांस जिसकी अर्थव्यवस्था 2.71 करोड़ है दोनों को पीछे छोड़ दिया है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि पर्चेसिंग पावर पेरिटी के मामले में भारत की जीडीपी 10.51 ट्रिलियन डॉलर की हो गई है जो जर्मनी और जापान से ज्यादा है। हालांकि, आबादी के हिसाब से भारत की पर कैपीटा जीडीपी 2,179 डॉलर है वहीं अमेरिका कि इसके मुकाबले 62,794 डॉलर है। हालांकि, इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि लगातार तीसरे साल भारतीय अर्थव्यवस्था 7.5 से 5 प्रतिशत पर आ सकती है।

रिपोर्ट ने ऑब्जर्व किया है कि भारत का आर्थिक उदारीकरण 1990 के दशक में शुरू हुआ था। भारत का सर्विस सेक्टर सबसे तेजी से बढ़ने वाला सेक्टर है जिसमें अर्थव्यवस्था का 60 प्रतिशत और रोजगार का 28 प्रतिशत है। बता दें कि यह रिपोर्ट ऐसे समय आई है जब मोदी सरकार अर्थव्यवस्था को लेकर विपक्षी दलों के निशाने पर है और साथ ही मूडीज के अलावा अन्य एजेंसियों ने देश की जीडीपी रैंकिंग का अनुमान घटाया है। साथ ही केंद्र सरकार ने भी अपने जीडीपी ग्रोथ के अनुमान को 6-6.5 के बीच रहने का अनुमान जताया है।

Posted By: Ajay Barve