मुंबई। संकटग्रस्त विमानन कंपनी जेट एयरवेज के तीन और विमान मंगलवार को सेवा से बाहर हो गए और इसके कारण कंपनी को 19 उड़ानें रद करनी पड़ीं।

सूत्रों ने कहा कि लीज रेंट (विमान का किराया) का भुगतान नहीं कर पाने के कारण कंपनी को तीन बोइंग 737 विमानों को सेवा से हटाना पड़ा।

इसके साथ ही विमान के किराए का भुगतान नहीं किए जाने के कारण कंपनी द्वारा गत दो दिनों में संचालन से बाहर किए गए विमानों की कुल संख्या छह हो गई है।

घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने कहा कि जेट एयरवेज विमानों के किराए का भुगतान करने में विफल रही है। इसलिए उसे तीन और नैरो बॉडी बोइंग 737 विमानों को संचालन से हटाना पड़ा।

इस घटनाक्रम पर कंपनी से तुरंत टिप्पणी नहीं मिल पाई। पिछले कई महीने से कंपनी नकदी की कमी से जूझ रही है।

मंगलवार को तीन विमानों को सेवा से हटाए जाने के कारण 19 उड़ानों को रद करना पड़ा। ये उड़ानें दिल्ली, चेन्नई, मुंबई, पुणे, हैदराबाद, पोर्ट ब्लेयर और बंगलुरु गंतव्यों से जुड़ी थीं।

Posted By:

  • Font Size
  • Close