भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने एक बयान जारी करते हुए उन रिपोर्ट्स का खंडन किया है जिसमें बैंक द्वारा गोल्‍ड ट्रेड किए जाने की बात कही गई थी। आरबीआई का कहना है कि मीडिया के कुछ वर्गों में रिपोर्ट्स सामने आई हैं कि RBIसोने की बिक्री / व्यापार कर रहा है। यह स्पष्ट किया जाता है कि आरबीआई ने कोई ट्रेड नहीं किया है।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) का कहना है कि वीकली स्‍टेटिस्टिकल सप्‍लीमेंट (WSS) में जो फ्ल्‍कचुऐशन वैल्‍यू दर्शाई गई है वह फ्रीक्‍वेंसी के पुनर्मूल्यांकन में बदलाव के चलते है। यह बदलाव मासिक से साप्‍ताहिक बेसिस पर है और यह सोने के अंतराष्‍ट्रीय मूल्‍यों एवं एक्‍सचेंज की दरों पर आधारित होता है।

एक मीडिया प्रकाशन ने गत शुक्रवार को बताया था कि भारतीय रिजर्व बैंक ने जुलाई से सोने में सक्रिय रूप से कारोबार करना शुरू कर दिया है, जो 5.1 बिलियन डॉलर का सोना खरीदता है और 1.15 बिलियन डॉलर का मूल्य बेचता है। समाचार पत्र ने RBI के साप्ताहिक सांख्यिकीय अनुपूरक के डेटा का हवाला दिया।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close