मल्टीमीडिया डेस्क। त्यौहारों के अवसर पर देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक ने अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है। भारतीय स्टेट बैंक ने सभी तरह के लोन पर सीमांत लागत आधारित ब्याज दर को 0.10 फीसद घटा दिया है। एसबीआई के इस फैसले से होम लोन पर ब्‍याज दर में गिरावट होगी। त्‍योहारी सीजन में एसबीआई की ग्राहकों को यह राहत भरी बड़ी सौगात है। एसबीआई ने एक बयान जारी कर बताया कि ब्याज दर कटौती की संशोधित दरें 10 अक्टूबर से लागू होंगी। ब्याज दर की इस कटौती के साथ ही एक साल के लोन का एलसीएलआर घटकर 8.05 फीसद पर आ गया है।

गौरतलब है एसबीआई ने इस साल छठी बार एमसीएलआर में कटौती की है। आरबीआई ने पिछले सप्ताह रेपो रेट में 0.25 फीसद की कटौती की थी, लेकिन इस कटौती का रेपो रेट से जुड़े लोन पर कोई असर नहीं होगा। रेपो रेट में गिरावट से बैंकों पर ब्याज दरों में कमी का दबाव बड़ जाता है। पिछले एक अक्‍टूबर से रेपो रेट में कटौती का फायदा ग्राहकों को देना अनिवार्य हो गया है। इससे पहले रेपो रेट में कटौती के बावजूद आम लोग इसके फायदे से अक्सर महरूम रहते थे। आरबीआई ने इस संबंध में कदम उठाते हुए बैंकों से सभी तरह के लोन को रेपो रेट से लिंक करने का आदेश दिया था। इसके बावजूद बैंकों के पास अब भी रेपो रेट आधारित लोन के अलावा एमसीएलआर आधारित लोन पेश करने की छूट है।

गौरतलब है देश की अर्थव्यवस्था में इन दिनों मंदी का दौर चल रहा है। बाजारों में सुस्ती छाई हुई है। नौकरियों पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसको देखते हुए एसबीआई के इस फैसले से बाजार के कुछ सुधरने की उम्मीद जताई जा रही है। त्यौहारों के मौसम में इसका सकारात्मक प्रभाव बाजारों में देखा जा सकता है।

Posted By: Yogendra Sharma