SEBI chief : कोरोना महामारी पर अंकुश लगाने के लिए लागू लॉकडाउन के दौरान शेयर बाजार में रिटेल निवेशकों की भागीदारी बढ़ी है। बाजार नियामक सेबी के चेयरमैन अजय त्यागी ने बुधवार को यह जानकारी दी।त्यागी उद्योग मंडल फिक्की के पूंजी बाजार पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि देश में लॉकडाउन लागू होने के बाद से डीमैट खातों की संख्या में अच्छा-खासा इजाफा हुआ है। बाजार में नए निवेशकों की भागीदारी बढ़ना इसकी वजह रही। उन्होंने कहा, 'पिछले कुछ महीनों के दौरान शेयर बाजार में रिटेल निवेशकों की भागीदारी में जोरदार इजाफा हुआ है।' कई विश्लेषकों का कहना है कि इसकी एक वजह यह भी है कि लॉकडाउन के दौरान निवेशकों के पास निवेश के ज्यादा विकल्प उपलब्ध नहीं थे। त्यागी ने कहा कि नए निवेशकों के लिए पूंजी बाजारों में सुगम प्रवेश के लिए अच्छा यही होगा कि वे पहले जोखिम मुक्त सरकारी प्रतिभूतियों (जी-सेक) में निवेश करें। उन्होंने कहा कि यह लक्ष्य हासिल करने के लिए सरकारी प्रतिभूतियां डीमैट रूप में जारी की जानी चाहिए।

मार्च के झटकों से उबरा बाजार

भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के प्रमुख ने कहा कि नए डीमैट खाताधारक सरकारी प्रतिभूतियों में निवेश के जरिये अनुभव हासिल करने के बाद अन्य प्रतिभूतियों को अपने डीमैट खातों में जोड़ें। उन्होंने कहा कि बाजार काफी हद तक मार्च के झटकों से उबर चुका है। उन्होंने कहा कि महामारी के बावजूद बाजार ने पहली तिमाही में दो लाख करोड़ रुपये से अधिक की पूंजी जुटाई है।

कंपनियों के लिए पूंजी जुटाना आसान

त्यागी ने कहा कि छह माह के लिए दिवाला एवं ऋणशोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) के प्रावधानों को निलंबित किए जाने की वजह से कंपनियां और बैंक समाधान के लिए आईबीसी ढांचे का इस्तेमाल नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके अलावा नियामक ने कंपनियों के लिए पूंजी जुटाने की प्रक्रिया को भी आसान किया है।

महामारी की वजह से कंपनियों को कई तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, जिसके चलते ये कदम उठाए गए हैं। इन उपायों में राइट्स इश्यू, अनुवर्ती सार्वजनिक निर्गम (एफपीओ), पात्र संस्थागत नियोजन से संबंधित नियम और तरजीही निर्गम के जरिये शेयरों के आवंटन के लिए सुगम मूल्य ढांचा आदि शामिल है।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Raksha Bandhan 2020
Raksha Bandhan 2020