Tomato prices skyrocket: कोरोना संक्रमण की मार झेल रहे लोगों के खाने का स्वाद सब्जियों की बढ़ती कीमतों ने खराब कर दिया है। कुछ समय पहले तक 10 से 15 रुपए किलो बिक रहा टमाटर अब 70 से 90 रुपए किलो बिक रहा है। इसी तरह आलू और हरी सब्जियों की बढ़ी हुई कीमतों ने लोगों को परेशान कर रखा है।

दिल्ली और एनसीआर में टमाटर इस वक्त 70 रुपए किलो से महंगा बिक रहा है। हिमाचल प्रदेश से नई आवक के बाद इसके दाम कम होने का अनुमान है। एक महीने पहले दिल्ली के आजादपुर मंडी में टमाटर को कोई पूछ नहीं रहा था लेकिन डीजल की कीमत बढ़ने और बारिश की वजह से अब इसके भाव आसमान को छू रहे हैं। गुजरात से टमाटर के कई ट्रक पहुंच रहे थे, लेकिन बारिश के मौसम में इसकी कमी हो गई है। डीजल महंगा होने से इसकी लोडिंग-अनलोडिंग भी महंगी हो गई है। दिल्ली में 3 जून को टमाटर का थोक भाव 3 रुपए किलो था जो 2 जुलाई को बढ़कर 52 रुपए किलो हो गया। चूंकि अधिकांश सब्जियों में टमाटर का इस्तेमाल होता है, इसलिए लोगों के लिए यह परेशानी का सबब बन गया है।

आलू के भाव भी बढ़े:

आलू के भाव भी बढ़ना शुरू हो गए हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार एक सप्ताह पहले तक आलू 20 रुपए किलो मिल रहा था जो अब 30 रिपए किलो हो चुका है। खुदरा विक्रेताओं के अनुसार उन्हें 48 से 50 किलो वाली बोरी 1300 रुपए में खरीदना पड़ रही है, इसके चलते उनके पास इसे महंगा बेचने के अलावा कोई चारा नहीं है।

हरी सब्जियों के भाव भी बढ़ना शुरू हो चुके हैं। भिंडी इस समय 30 से 40 रुपए किलो बिक रही है जबकि शिमला मिर्च का भाव 60 से 80 रुपए किलो हो चुका है। बैंगन 30 रुपए और कद्दू 20 रुपए प्रति किलो बिक रहा है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021