मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। भारत के सुपर-रिच यानी अति अमीर लोगों को अब संयुक्त राज्य अमेरिका में अपने समकक्षों की तुलना में अधिक कर चुकाना होगा।

ऐसे व्यक्तियों पर अमेरिका में सुपर-रिच पर लगाए गए 40% से अधिक 42.7% तक कर लगाया जा सकता है। 2 से 5 करोड़ रुपए की आय वालों को 3 फीसदी टैक्स देना होगा।

वहीं 5 करोड़ या इससे ज्यादा आय वालों को 7 फीसदी टैक्स चुकाना होगा। अपने पहले बजट में, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उच्च आय वाले व्यक्तियों (HNI) पर कर बढ़ा दिया है।

उन्‍होंने कहा कि, “हमने छोटे और मध्यम आय वाले लोगों पर कर के बोझ को कम करने के लिए अतीत में कई उपाय किए हैं क्योंकि 5 लाख रुपये तक की वार्षिक आय वाले लोगों को किसी भी आयकर का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।

हम उन करदाताओं के आभारी हैं, जो अपने करों का भुगतान करके राष्ट्र निर्माण में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट किया कि, "हालांकि, बढ़ते आय स्तरों के मद्देनजर, उच्चतम आय वाले लोगों से राष्ट्र के विकास में अधिक योगदान देने की आवश्यकता है।"

लिहाजा, मैं दो करोड़ रुपये से 5 करोड़ रुपये तक की कर योग्य आय वाले व्यक्तियों पर यह अधिभार बढ़ाने का प्रस्ताव करती हूं।

Posted By: Navodit Saktawat