User Based Insurance: अगर आप अपने वाहन का इस्तेमाल कम करते हैं, और महंगे इंश्‍सोरेंस प्रीमियम से परेशान हैं तो टेंशन न लें. अब गाड़ी की ड्राइविंग के आधार पर प्रीमियम तय होगा. आईसीआईसीआई लोम्‍बार्ड ने 'पे ऐज यू ड्राइव' नाम से प्रोडक्‍ट लॉन्‍च किया है। इसमें आप अपने वाहन को जितना चलाएंगे, प्रीमियम उसी आधार पर तय होगा. वाहन में मौजूद टेलीमैटिक्स डिवाइस की सहायता से ड्राइविंग दूरी को मापा जाएगा. क्‍या है ये प्रोडक्‍ट, ग्राहकों का कैसा रिस्पांस है और किनके लिए ये बेहतर है. इन सब पर हमने , ICICI Lombard GIC Ltd. के चीफ अंडरराइटिंग, रीइंश्‍योरेंस, क्‍लेम एंड एक्चुरियल, संजय दत्‍ता से बात की है.

1. 'पे ऐज यू ड्राइव' सेगमेंट को लेकर ग्राहकों की ओर से किस तरह की प्रतिक्रिया मिल रही?

पे ऐज यू ड्राइव' सेगमेंट को लेकर ग्राहकों का शुरूआती रिस्पांस बहुत उत्साहजनक हैं। साफ तौर पर ग्राहकों का एक वर्ग है जो अपनी आवश्यकताओं के हिसाब से एक अलग पेशकश का इंतजार कर रहा है। आईसीआईसीआई लोम्बार्ड का पे-ऐज-यू-यूज (PAYU) ऐड-ऑन ठीक उसी तरह का प्रोडक्ट है। यह ग्राहकों को उनकी ड्राइविंग की आवश्यकताओं के अनुसार किलोमीटर आधारित विकल्प चुनने की सुविधा देता है।

पे-हाउ-यू-यूज (PHYU) ऐड-ऑन को भी बाजार में अच्छा रिस्पांस मिल रहा है. हालांकि यह ड्राइविंग-बिहेवियर आधारित ऐड-ऑन है और यह प्रोडक्ट उन ग्राहकों को पेश किया जाता है जो टेलीमैटिक्स डिवाइस-आधारित प्रोडक्‍ट विकल्प चुनते हैं। इसके लिए परिदृश्य उत्साहजनक रूप से विकसित हो रहा है क्योंकि अधिकांश ओईएम अपने नए लॉन्च में कनेक्टेड कार सुविधाओं की पेशकश कर रहे हैं। टेलीमैटिक्स की पेशकश वाले उत्पाद के लिए पूरा इको-सिस्टम अपने को अच्‍छी तरह से तैयार कर रहा है।

2. भारत में यूजर बेस्‍ड यानी उपयोगकर्ता-आधारित बीमा के लिए ग्रोथ आउटलुक कैसा है?

किसी भी प्रोडक्ट में जरूरत के हिसाब से लगातार नयापन लाना जरूरी है। आने वाले समय में, हर प्रोडक्ट को और अधिक व्यक्तिगत बनाया जाएगा और ग्राहकों की आवश्यकताओं के अनुरूप उनमें संशोधित किया जाएगा। PAYU और PHYU ऐड-ऑन उसी दिशा में एक कदम है।

3. आप किस जनसांख्यिकी (मुख्य रूप से किस उम्र वर्ग/शहर) से इन प्रोडक्ट को लेकर आकर्षण देख रहे हैं?

इन प्रोडक्ट को विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों और आयु वर्ग में पेश किया जाता है। हालांकि, किलोमीटर आधारित PAYU ऐड-ऑन की डिमांड उन शहरों में ज्यादा रहने की उम्मीद है, जहां पब्लिक ट्रांसपोर्ट यानी सार्वजनिक परिवहन पर्याप्त रूप से उपलब्ध है, और ग्राहक अपने वाहन को डेली बेसिस पर नहीं चलाते हैं। यानी वे सार्वजनिक परिवहन का उपयोग करना पसंद करते हैं।

4. PAYD/PHYD को एक ऐड ऑन के रूप में शुरू किया गया था, क्या ये मोटर इंश्‍योरेंस में मुख्यधारा की भूमिका निभा रहे हैं?

PAYU और PHYU ऐड-ऑन के लिए अभी शुरुआती दिन हैं, हालांकि भविष्य में इन ऐड-ऑन में मोटर बीमा में मुख्यधारा की भूमिका निभाने की पूरी क्षमता है। इन उत्पादों के लिए आवश्यक इको-सिस्टम तेजी से विकसित हो रहा है। ऐसे यूज्‍ड बेस्‍ड प्रोडक्ट की डिमांड हमेशा रहती है, भले ही वह सक्रिय रूप से न दिखे। इसी डिमांड के चलते आने वाले महीनों और सालों में इन प्रोडक्ट के विकास को गति मिलेगी।

संजय दत्‍ता , चीफ अंडरराइटिंग, रीइंश्‍योरेंस, क्‍लेम एंड एक्चुरियल , आईसीआईसीआई लोम्बार्ड

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close