अंबिकापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। आनलाइन ठगी की दो घटनाओं में एक एमटेक किया युवक सीमेंट फैक्ट्री में नौकरी के नाम पर आठ लाख रुपये की ठगी का शिकार हो गया। दूसरी घटना ने ओएलएक्स में गाड़ी बिक्री के विज्ञापन के झांसे में आकर एक व्यक्ति डेढ़ लाख रुपये गंवा बैठा। कोतवाली पुलिस दोनों मामले में अपराध दर्ज कर जांच में ली है।

पुलिस ने बताया कि नमनाकला निवासी सुदीप मुखर्जी एमटेक तक शिक्षा ग्रहण किया है। बेरोजगार युवक आनलाइन नौकरी की तलाश में लगा था। इसी बीच उसकी नजर इंटरनेट मीडिया पर एक नामी कंपनी के सीमेंट की फैक्ट्री के लिए इंजीनियर की आवश्यकता के दिए गए कालम पर गई। उसने संपर्क कर इंजीनियर के पद हेतु आवेदन किया था। इंजीनियर के पद हेतु युवक को योग्य मानते हुए कंपनी की ओर से जब उसे नौकरी के लिए आश्वस्त कर दिया गया तो उसकी उम्मीद बढ़ गई। इसके बाद प्रोसेसिंग सहित अन्य शुल्क के नाम पर किश्तों में आठ लाख रुपये ऐंठ लिए। नौकरी की जगह बार-बार रुपये की मांग से परेशान युवक को ठगी का एहसास हुआ घटना की जानकारी कोतवाली पुलिस को दी गई है। थाने पहुंचे युवक के पास शनिवार को दोपहर बाद तक ठग का फोन आ रहा था। दूसरी घटना में कलेक्टर बंगला रोड निवासी मनोज कुमार यादव (50) ओएलएक्स में 95 हजार की गाड़ी का विज्ञापन देख खरीदी की इच्छा जाहिर किया। इसके बाद रजिस्ट्रेशन, डिलेवरी चार्ज के नाम पर डेढ़ लाख रुपये गंवा बैठा। गाड़ी घर के दरवाजे पर आने का इंतजार कर रहे मनोज से और रुपये की मांग की जा रही थी। घटना आठ से 11 अक्टूबर के बीच की है। रिपोर्ट पर पुलिस ने धारा 420 का मामला दर्ज कर लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local