कुसमी (नईदुनिया न्यूज)। सामरी थानांतर्गत ग्राम बाटा में एक वर्ष पूर्व आदिवासी की 44 एकड़ जमीन नगेसिया जाति से बदलकर बिरजिया जाति कर गैर आदिवासी रिकार्ड में हेराफेरी कर बेचने के मामले में फरार पटवारी रविशंकर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जमीन की हेराफेरी की जानकारी उसके असली वारिस को हुई तो उसने लिखित शिकायत सामरी थाने में की थी। जमीन फर्जीवाड़ा मामले की शिकायत मिलने पर थाना सामरी द्वारा जांच शुरू की गई जिसमें पता चला कि पटवारी व भू माफियाओं द्वारा करीब 44 एकड़ आदिवासी जमीन की रिकार्ड में फर्जी तरीके से हेराफेरी करके अंबिकापुर निवासी गैर आदिवासी व्यक्ति के नाम बिक्री कर दी गई है। मामला सामने आने पर आरोपित पटवारी रविशंकर एक साल से फरार चल रहा था। उसकी तलाश पुलिस थाना सामरी कर रही थी। इस बीच सोमवार को सामरी पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर आरोपित पटवारी रविशंकर को कुसमी से गिरफ्तार कर लिया गया। उसके खिलाफ धारा 420, 467, 468, 120 बी, 342 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। मामले की विवेचना बलरामपुर अनुसूचित जनजाति थाना के डीएसपी द्वारा किए जाने की वजह से गिरफ्तार पटवारी रविशंकर को बलरामपुर अजाक थाना में सुपुर्द किया गया है। सामरी थाना प्रभारी ने कहा कि मामले के कुछ और आरोपित की गिरफ्तारी अभी बाकी है जिनकी तलाश की जा रही है।

दुष्कर्म का आरोपित गिरफ्तार

अंबिकापुर। शादी का झांसा देकर महिला से दुष्कर्म और गाली-गलौज कर जान से मारने की धमकी देने के आरोप पर अंबिकापुर की कोतवाली पुलिस ने महामाया रोड निवासी साबिर उर्फ विक्की को गिरफ्तार किया है। पीड़िता द्वारा रिपोर्ट दर्ज कराए जाने के 24 घंटे के भीतर ही पुलिस ने आरोपित को उसके घर से गिरफ्तार किया।

.......................

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close