अंबिकापुर। Ambikapur Weather Update : नौतपा की भीषण गर्मी के बीच गुरुवार देर शाम तेज आंधी तूफान के बीच संभाग मुख्यालय अंबिकापुर में जमकर बारिश हुई। तेज हवा से शहर में जगह-जगह पेड़ गिर गए इससे पूरे इलाके की विद्युत व्यवस्था चरमरा गई। दो सब स्टेशन बंद हो गए और कई जगह लाइनों में फाल्ट आ गया। विद्युत विभाग का अमला मरम्मत और सुधार कार्य में निकला। रात 9 बजे के आसपास शहर के ज्यादातर इलाकों में बिजली सप्लाई चालू कर दी गई, लेकिन जिन जगहों पर पेड़ गिरे थे वहां सुधार कार्य नहीं हो पाया।

शहर के डीसी रोड, तकिया सहित अजिरमा और सरगवां रोड के पास पेड़ गिरने से विद्युत लाइन प्रभावित हो गई। तकिया इलाके में पेड़ गिरने के कारण पानी सप्लाई के लिए स्थापित फिल्टर प्लांट की बिजली गुल हो गई जो रात भर नहीं आई। इससे पूरे शहर की जलापूर्ति सुबह ठप रही। लोग पानी के लिए हलाकान रहे। सुबह पांच बजे मरम्मत के बाद तकिया फिल्टर प्लांट की बिजली व्यवस्था बहाल कर दी गई, लेकिन शहर के कुछ इलाके ऐसे भी हैं जहां अभी तक बिजली बहाल नहीं हो पाई है।

तीन-चार दिनों से लोग भीषण गर्मी से बेहाल थे इस बीच गुरुवार शाम करीब सात बजे शहर का मौसम बदल गया। अचानक आसमान में घने काले बादल छा गए और तेज हवा चलने लगी। कुछ ही देर में जमकर बारिश शुरू हो गई। करीब पौन घंटे तक इलाके में बारिश होती रही। तेज हवा से शहर के कई इलाकों में पेड़ गिरने से बिजली व्यवस्था ठप हो गई।

विद्युत विभाग की टीम मरम्मत के लिए निकली तो शहर की स्थिति देखकर वह भी हैरान रह गई। कई जगहों पर पेड़ गिरे थे। कुछ स्थानों पर विद्युत तार व खंभे टूट गए थे। डीसी रोड में पेड़ गिरने के कारण आसपास के सात ट्रांसफार्मर से सप्लाई बंद हो गई। प्रभावित इलाके में कलेक्टर बंगला भी शामिल था, लिहाजा डीसी रोड की सप्लाई अलग लाइन से दी गई, लेकिन आगे रामानुजगंज रोड में रात भर बिजली बंद रही। देर रात तक यहां मरम्मत का काम चलता रहा।

हालांकि शहर के करीब 70 फीसद इलाकों में रात 10 बजे बिजली बहाल कर दी गई थी, लेकिन रामानुजगंज रोड, तकिया, खैरवार सहित कुछ अन्य इलाकों में रात भर बिजली गुल रही। इन स्थानों पर पेड़ गिरने के कारण समस्या आई है।

फ़िल्टर प्लांट में 10 घंटे गुल रही बिजली, शहर में पानी सप्लाई ठप

तकिया इलाके में देर शाम चली आंधी और बारिश के बीच पेड़ गिरने से तकिया सब स्टेशन की बिजली गुल हो गई। लाइन में ऐसी खराबी आई कि विद्युत विभाग का अमला इसे 10 घंटे बाद भोर में पांच बजे ठीक कर पाया। रात भर बिजली गुल होने के चलते फिल्टर प्लांट से शहर की टंकियों में पानी नहीं पहुंच पाया और सुबह लोग पानी के लिए परेशान रहे। नलों में पानी नहीं आने से लोगों ने आसपास के हैंडपंप और निजी बोरिंग से पानी मांग कर किसी तरह काम चलाया। आज शाम पानी सप्लाई सामान्य होने की उम्मीद है

पेड़ हटाने और मरम्मत में जुटे कर्मचारी

तेज आंधी तूफान से गिरे कुछ स्थानों पर पर अभी भी पेड़ नहीं हटाए गए हैं जिसे विद्युत विभाग सुबह से ही हटाने और लाइन मरम्मत के काम में जुट गया है। सरगवां सहित तकिया इलाके में गिरे पेड़ को हटाने के लिए विद्युत और वन विभाग की टीम जुटी हुई है। पेड़ को हटाने के बाद ही इस इलाके में लाइन की मरम्मत की जाएगी।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना