Ambikapur News : अम्बिकापुर। सूरजपुर जिले के प्रतापपुर वन परिक्षेत्र अंतर्गत ग्राम सिंघरा में हाथी के हमले से महिला की मौत हो गई। जंगल के किनारे खेत में रोपा लगाकर महिला घर वापस लौट रही थी। उसी दौरान हाथी से आमना सामना हो गया। हाथी ने खेत में ही कुचलकर महिला की जान ले ली। बता दें कि राज्य के उत्तरी इलाके में जंगली हाथियों के कई दल स्वच्छंद विचरण कर रहे हैं। यह दल जंगली इलाकों से लगे गांवों के अंदर तक पहुंच जाते हैं। यहां फसलों को नुकसान पहुंचाने के साथ ही वे लोगों पर हमले कर मौत के घाट उतार देते हैं।

प्रतापपुर वन परिक्षेत्र के ग्राम सिंघरा निवासी केवली बाई पति धनीराम गोंड़ 45 वर्ष सोमवार की शाम लगभग सात बजे जंगल से लगे खेत में धान का रोपा लगाकर घर वापस लौट रही थी। वह इस बात से अनजान थी कि एक हाथी बस्ती की ओर चला गया है और गांव वाले उसे जंगल की ओर खदेड़ रहे हैं। घर लौटते वक्त उसी हाथी से केवली बाई का सामना हो गया। जान बचाने के लिए महिला ने दौड़ भी लगाई लेकिन हाथी ने उसे सूंड से पकड़ लिया। खेत में पटकने और पैर से कुचलने के कारण केवली बाई की मौके पर ही मौत हो गई, इसके बाद हाथी जंगल की ओर चला गया।

रात को ही एसडीओ फॉरेस्ट मनोज विश्वकर्मा, रेंजर पीसी मिश्रा के साथ वन विभाग का अमला मौके पर पहुंच गया था। बताया जा रहा है कि सिंघरा व आसपास के इलाके में बहरा देव के साथ एक अन्य हाथी स्वच्छंद विचरण कर रहा है।उक्त हाथी के सर्वाधिक आक्रामक प्यारे हाथी होने का अनुमान लगाया जा रहा है। एसडीओ फॉरेस्ट मनोज विश्वकर्मा ने बताया कि जिस तरीके से महिला को हाथी ने मारा है उससे संभावना है कि प्यारे हाथी फिर से इस इलाके में लौट आया है। दोनों हाथी के अलग-अलग स्वच्छंद विचरण करने से प्रभावित क्षेत्र के ग्रामीण भयभीत हैं।

Posted By: Himanshu Sharma

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020