अंबिकापुर/उदयपुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। सरगुजा जिले के उदयपुर विकासखंड में कोरोना के पांच नए मरीज सामने आए हैं। इनमें दो महिला व तीन पुरुष हैं। एक महिला को रिपोर्ट आने से पहले ही क्वारंटाइन सेंटर से घर जाने दे दिया गया था। वह परिवार के सदस्यों के साथ थी। शुक्रवार रात आई रिपोर्ट के बाद सभी पांच को कोविड अस्पताल में दाखिल करा दिया गया है। उधर सूरजपुर जिले के लाइवलीहुड कॉलेज में क्वारंटाइन किया गया मुंबई से लौटा युवक भी कोरोना संक्रमित पाया गया है। कोविड अस्पताल से शनिवार को कोरोना संक्रमित तीन मरीजों के स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया।

उदयपुर के दावा और सलका क्वारंटाइन सेंटर के पांच कोरोना पॉजिटिव मरीजों को एंबुलेंस से कोविड हास्पीटल अंबिकापुर में दाखिल कराया गया है। सलका क्वारंटाइन सेंटर से दो महिला व एक पुरुष जबकि दावा क्वारंटाइन सेंटर में दो पुरुष कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इन सभी को ट्रैवल हिस्ट्री के आधार पर आरटीपीसीआर सैंपल लिया गया था। यह लोग नेपाल, मुंबई, विशाखापट्टनम से आए थे। इनके साथ क्वारंटाइन सेंटरों में रहने वाले अन्य लोगों का भी आरटीपीसीआर सैंपल लिया जा रहा है। इनके प्राइमरी कांटेक्ट में आए लोगों का आरटीपीसीआर लिया जा रहा है, जबकि सेकेंडरी कांटेक्ट में आए लोगों को होम आईसोलेट किया जा रहा है। सलका और दावा को कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है। 200 मीटर के आसपास के लोगों को घरों से बाहर निकलने से मना करने के लिए गांव में मुनादी कराई जा रही है। मौके पर प्रशासन और पुलिस की टीम मौजूद रही। एसडीएम प्रदीप कुमार साहू के द्वारा तहसीलदार अनिकेत साहू, सुभाष शुक्ला, थाना प्रभारी मनीष धुर्वे, बीएमओ एआर जयंत सहित अन्य अधिकारियों को इस मामले में सतर्कता बरतते हुए कार्य करने को निर्देशित किया गया है। उदयपुर ब्लाक में कुल 9 क्वारंटाइन सेंटरों में 217 लोगों को रखा गया है। नेपाल से आई महिला जिसे 14 दिन पूर्ण होने पर टेस्ट रिपोर्ट आने से पहले ही उसके पति द्वारा क्वारंटाइन सेंटर के ड्यूटी कर्ताओं के कहने पर ले जाया गया। महिला को घर में पहुंचाने के बाद महिला का पति गांव में ही आठ से 10 लोगों के साथ भजन-कीर्तन में भी शामिल हुआ है। भजन-कीर्तन में शामिल होने के बाद सभी लोग अपने अपने घर को चले गए थे। रात को आई रिपोर्ट के बाद सभी को क्वारंटाइन किया गया।

कोविड अस्पताल में 67 का इलाज

कोविड अस्पताल में अब तक दाखिल मरीजों में से 20 मरीज स्वस्थ होकर घरों को लौट गए हैं। वर्तमान में 67 मरीजों को कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया। इनमें से 16 लोगों का सैंपल जांच के लिए भेजा गया है। आज तक की स्थिति में सरगुजा जिले से 13, सूरजपुर जिले से पांच, बलरामपुर जिले से 16, कोरिया जिले से 35 व जशपुर जिले से 15 मरीजों को भर्ती किया गया था, जिसमें सरगुजा से सात, सूरजपुर से एक, बलरामपुर से सात, कोरिया से पांच मरीज डिस्चार्ज किए गए हैं। शनिवार को सूरजपुर के 20 वर्षीय पुरुष, सरगुजा जिले के उदयपुर से 21, 24 व 32 साल के तीन पुरुष व 30 तथा 50 वर्ष की दो महिलाओं को भर्ती किया गया है। कोविड अस्पताल में भर्ती मरीजों में कोरोना का कोई भी लक्षण नहीं है। शनिवार को दाखिल सरगुजा के पांच मरीजों में दो एक ही परिवार के सदस्य बताए जा रहे हैं।

सूरजपुर जिले में दो दिन के भीतर तीन कोरोना संक्रमित मिले

सूरजपुर जिले का एक और प्रवासी कोरोना संक्रमित पाया गया है। युवक कुछ दिन पूर्व मुंबई के अंधेरी से लौटा था। उसे सूरजपुर के ग्राम पर्री स्थित लाइवलीहुड कॉलेज में क्वारंटाइन किया गया था। जिले में दो दिन के भीतर तीन कोरोना संक्रमित पाए गए है। स्वास्थ्य विभाग को थोड़ी राहत इसलिए है कि ये सभी क्वारंटाइन सेंटर में थे। सरगुजा संभाग में सबसे पहले सूरजपुर के जजावल स्थित राहत कैंप में कोरोना पॉजिटिव मिलने की पुष्टि हुई थी। दो दिन के भीतर ही यहां छह पॉजिटिव मिले थे। सभी को रायपुर एम्स भेजा गया था। यहां से स्वस्थ होकर सभी लौटे थे। इसी बीच एक आरक्षक दोबारा पॉजिटिव हो गया था। उसका इलाज अंबिकापुर के कोविड अस्पताल में चल रहा है। इसी बीच दिल्ली से लौटा एक अन्य युवक भी पॉजिटिव पाया गया था। हालांकि वह इलाज के बाद स्वस्थ होकर घर लौट चुका है। 4 जून की रात सूरजपुर जिले में दो और पॉजिटिव मिले थे। ये मध्यप्रदेश व महाराष्ट्र से लौटे श्रमिक थे, दोनों को बसदेई के नवोदय स्कूल में क्वारंटाइन किया गया था। इसी बीच शनिवार एक और युवक के पॉजिटिव होने की रिपोर्ट जिले से आई। यह युवक ओड़गी तहसील क्षेत्र के ग्राम इंजानी का रहने वाला है। मुंबई के अंधेरी इलाके में रहकर मेट्रो में काम करता था। कुछ दिन पूर्व ही वह सूरजपुर लौटा था। वापस लौटते ही उसे क्वारंटाइन कर दिया गया था।

उदयपुर विकासखंड में कुल 112 लोगों का आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल भेजा गया था। इनमें पांच लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। 30 की रिपोर्ट नहीं आई है। शेष सारे लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

डॉ. एआर जयंत

बीएमओ, उदयपुर

सलका व दावा क्वारंटाइन सेंटर में कोरोना संक्रमित मरीजों के सामने आने के बाद सतर्कता और बढ़ा दी गई है। प्राइमरी कांटेक्ट वाले मरीजों का सैंपल लिया जा रहा है। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम लगी हुई है। द्वितीय संपर्क वाले लोगों को होम आइसोलेट किया जा रहा है।

सुभाष शुक्ला

तहसीलदार, उदयपुर

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना