अंबिकापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नशीली दवाओं के अवैध तरीके से खरीद बिक्री में शामिल पांच आरोपितों को कोतवाली अंबिकापुर और रघुनाथपुर पुलिस चौकी की टीम ने गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों में केंद्रीय कारागार अंबिकापुर में पदस्थ एक प्रहरी भी शामिल है। प्रहरी को लेकर पुलिस की जांच जारी है कि वह खुद के उपयोग के लिए बड़ी मात्रा में नशे के रूप में उपयोग की जाने वाली दवाओं को रखा था या फिर जेल के भीतर या बाहर वह अवैध धंधे में संलिप्त था।

सरगुजा के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि सरगुजा जिले में चलाए जा रहे 'नवा बिहान' नशामुक्ति अभियान के तहत नशे के रूप में उपयोग की जाने वाली दवाइयों और इंजेक्शन के अवैध खरीद-बिक्री के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसी कड़ी में अंबिकापुर शहर एवं आस पास के क्षेत्र में लोगों को नशीली दवाओं के व्यसन में डालने वाले अवैध कारोबारियों पर लगातार नजर रखने से सफलता भी मिल रही है। मुखबिर की सूचना पर आरोपित इब्राहिम उर्फ बाबू निवासी मोमिनपुरा नुरानी मस्जिद के पास से नौ पत्ती कुल 660 नग अवैध नशीली दवा अल्प्राजोलम बरामद किया गया। इसी प्रकार एक अन्य कार्रवाई में केंद्रीय कारागार अंबिकापुर में पदस्थ मनीष बंछोर 6 वर्ष निवासी दर्रीपारा के कब्जे से 1800 नग प्रतिबंधित दवा अल्प्राजोलम एवं नारायण तिवारी 40 वर्ष निवासी खड़गवा के कब्जे से 600 नग प्रतिबंधित दवा अल्प्राजोलम प्राप्त हुआ। इन तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया है। एएसपी विवेक शुक्ला ने बताया कि क्षेत्र को नशामुक्त करने की दिशा में जारी प्रयासों के तहत पुलिस चौकी रघुनाथपुर के द्वारा कार्रवाई करते हुए दो व्यक्ति नईम अंसारी 25 वर्ष निवासी मोमिनपुरा अंबिकापुर एवं शाबान अंसारी 24 निवासी मोमिनपुरा को लाल रंग की टीव्हीएस स्टार सीटी मोटर साइकिल में सात नग नशीली कफ सिरप एवं 304 नग नशीली दवाई टेबलेट बेचने हेतु ग्राहक तलाश करते पकड़ा गया। पूरी कार्रवाई में कुल 3364 नग नशीली दवा अल्प्राजोलम एवं सात नग कफ सिरप जब्त किया गया है। उन्होंने बताया कि सरगुजा जिले में इस प्रकार अवैध नशीली दवाओं पर कार्रवाई जारी रहेगी। कार्रवाई में निरीक्षक विजय प्रताप सिंह, उप निरीक्षक अशोक कुमार मिश्र, एएसआई प्रमोद पाण्डेय, विनय कुमार सिंह, सरफराज राजेश्वर महन्त, प्रधान आरक्षक संत कुमार चौहान, भोजराज पासवान आरक्षक मंटु गुप्ता, शाहबाज, विमल भगत, अमित विश्वकर्मा, शिव राजवाडे, राकेश एक्का, सत्यप्रकाश, ब्रिजेश राम, कृष्ण कुमार खेस, मुनुश्वर पन्ना, बुधकुमार, अंशुल शर्मा सक्रिय रहे।

जेल प्रहरी की भूमिका की जांच-एएसपी

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला ने बताया कि नशीली दवाओं के साथ पकड़े गए आरोपितों में शामिल मनीष बंछोर केंद्रीय कारागार में जेल प्रहरी के पद पर पदस्थ है। जेल के बाहर उसे सादे वेश में पकड़ा गया है। उसकी भूमिका की जांच की जा रही है। अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वह जेल में नशीली दवाओं की आपूर्ति करता था या नहीं। हालांकि इस दिशा में भी पुलिस की जांच चल रही है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local