बिश्रामपुर(नईदुनिया न्यूज)। शहर के माइनस कालोनी निवासी इंजीनियरिग छात्रा से एसईसीएल में नौकरी लगवाने के नाम पर साढ़े चार लाख रुपये की ठगी करने के मामले में बिश्रामपुर पुलिस ने चार आरोपितों के विरुद्घ प्राथमिकी की है।

उक्ताशय की रिपोर्ट एसईसीएल के माइनस कालोनी निवासी छात्रा अलमा रानू टोप्पो ने दर्ज कराई है। वह शासकीय इंजीनियरिंग महाविद्यालय कोनी बिलासपुर में सिविल अंतिम वर्ष की छात्रा है। उसने बताया कि उसके साथ पढ;ने वाले भटगांव निवासी सूरज गुप्ता एवं रायगढ; निवासी निलेश बेहरा ने विगत 10 मई को बिलासपुर निवासी यशवंत सोनवानी नामक युवक से उसका परिचय कराते हुए बताया था कि यह एसईसीएल में कई लोगों की नौकरी लगवा चुका है। यदि तुम भी पैसा खर्च करोगी तो यह एसईसीएल में तुम्हारी नौकरी लगवा देगा। सहपाठी होने के कारण वह उनकी बातों के झांसे में आ गई।उसके बाद उनके कहने पर नौकरी पाने की लालसा में उसने यशवंत सोनवानी के अनुसार उसके द्वारा लाये गए एसईसीएल के नौकरी संबंधित फार्म में हस्ताक्षर भी किए। उसके बाद यशवंत के पिता के स्टेट बैंक के बैंक खाते में चार बार तथा फोन पे के जरिये यशवंत द्वारा बताए गए नंबर पर सात बार में तीन लाख 58 हजार रुपए ट्रांसफर किए। इसके अलावा दो बार में नकद 92 हजार रुपये उसे दिए। इस प्रकार उसने यशवंत सोनवानी को कुल साढ़े चार लाख रुपये नौकरी लगाने के नाम पर दिए हैं। नौकरी नहीं लगने पर अब पूछे जाने पर वह टालमटोल कर रहा है और कहता है कि उसे जो करना है कर ले।ठगी की शिकार इंजीनियरिंग छात्रा की रिपोर्ट पर विश्रामपुर पुलिस ने बिलासपुर निवासी आरोपित यशवंत सोनवानी समेत उसके पिता संतोष सोनवानी एवं छात्रा के सहपाठी रायगढ; निवासी निलेश बेहरा एवं भटगांव निवासी सूरज गुप्ता के विरुद्घ धारा 420, 120 बी, 34 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close