अंबिकापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

बनारस मार्ग पर सड़क हादसों के लिए अभिशप्त हो चुके घाट पेंडारी में अनियंत्रित ट्रेलर के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से चालक की मौत हो गई। हादसे में मृत चालक का भतीजा बाल-बाल बच गया। वह बतौर क्लीनर ट्रेलर में ही चाचा के साथ काम करता था। ट्रेलर के कई फीट नीचे गिर जाने के कारण शव बुरी तरह से ट्रेलर के इंजन से दब गया था, जिसे अगले दिन पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से बाहर निकाला।

उत्तरप्रदेश के हापुड़ जिले के धौलाना थाना क्षेत्र के ग्राम सौलाना निवासी सुमित राणा 25 वर्ष, भतीजा लवकेश राणा पिता मनफूल सिंह सिसोदिया 23 वर्ष के साथ बीते 2 दिसंबर को ओडिशा के कटक से ट्रेलर क्रमांक सीजी 04 जेसी 0712 में लोहे की प्लेट को लोड कर ऐटा(उप्र) ले जा रहे थे। घटना दिवस की रात बनारस मार्ग पर घाट पेंडारी के पास चालक का वाहन पर से नियंत्रण हट गया और तेज रफ्तार की ट्रेलर बेकाबू होकर खाई से नीचे गिर गई। ट्रेलर में सवार कलीनर पहले ही कूदकर जान बचाने में सफल हो गया। अंबिकापुर-बनारस मार्ग पर घाट पेंडारी में खतरनाक मोड़ लगातार हादसों का कारण बन रहे है। कुछ वर्ष पहले घाट कटिंग और मोड़ों को सीधा करने बड़ी राशि मंजूर की गई थी। लोक निर्माण विभाग ने कार्य भी आरंभ कराया, लेकिन रोड इंजीनियरिंग की जिन तकनीकी खामियों के कारण यह स्थल सड़क दुर्घटनाओं के लिये अभिशप्त हो चुका है, उन खामियों को दूर करने ईमानदार कोशिश नहीं हुई। मनमाना कार्य के कारण अब भी हादसे हो रहे है।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket