अंबिकापुर । गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के भतीजे के खिलाफ सूरजपुर जिले के चेंद्रा चौकी पुलिस ने युवती को शादी का झांसा देकर यौन उत्पीड़न करने का मुकदमा दर्ज किया है। पीड़िता के अनुसार चार वर्ष पूर्व से आरोपित उसका दैहिक शोषण कर रहा था, तब वह चेंद्रा हाईस्कूल की छात्रा थी।

उसके गर्भवती होने पर आरोपित ने गर्भपात के लिए दबाव डाला, लेकिन पीड़िता ने इन्कार करते हुए बच्चे को जन्म दिया। उधर इस मामले में गृहमंत्री ने स्पष्ट किया कि ऐसे मामलों में आरोपित कोई भी हो, कार्रवाई होगी।

पुलिस को दी तहरीर में पीड़िता ने आरोप लगाया है कि 2014 में वह नाबालिग थी एवं चेंद्रा हाईस्कूल की छात्रा थी। उस दौरान गृहमंत्री रामसेवक पैकरा के भतीजे शमोध पैकरा से उसकी मुलाकात हुई। शमोध ने उसे प्रेम जाल में फंसा कर शादी का झांसा दिया।

शादी के लिए कई बार कहने पर भी वह कभी तैयार नहीं हुआ। इस बीच पीड़िता बालिग हो गई और गर्भवती होने पर उसने शादी कर लेने का दबाव बनाया। तब आरोपित ने गर्भपात कराने दवाब डाला, लेकिन पीड़िता ने इन्कार करते हुए एक बच्ची को जन्म दिया।

बेटी होने के बाद भी शमो अपने और रिश्तेदारों के घर ले जाकर दैहिक शोषण करता रहा। शमो के पिता रामपति पैकरा की अप्रैल 2015 में सड़क हादसे में मौत हो गई थी। वे एसईसीएल की महामाया खदान में कार्यरत थे। उनकी मौत के बाद शमोध पैकरा को एसईसीएल में अनुकंपा नियुक्ति करीब एक वर्ष पूर्व मिल गई।

नौकरी मिलने के बाद उसने दूसरी शादी तय कर ली। पीड़िता के अनुसार गृहमंत्री का रिश्तेदार होने के कारण कुछ लोगों ने पीड़िता पर ही दबाव बनाकर समझौता कराया कि युवती अब इसकी कहीं शिकायत नहीं करेगी। समझौते के कुछ दिनों बाद ही शमोध ने दूसरी युवती से विवाह भी कर लिया। आईजी हिमांश गुप्ता व एसपी सूरजपुर जीएस जायसवाल के निर्देश पर चेंद्रा पुलिस ने आरोपी शमोध पैकरा पर धारा 376 का अपराध शुक्रवार को दर्ज किया।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close