अंबिकापुर । छत्तीसगढ़ के मनेंद्रगढ़ (कोरिया जिला) में पति ने पैसे के लिए अपनी गर्भवती पत्नी की बेल्ट से पिटाई के बाद तीन बार तलाक कह दिया। इसके बाद देवर, ननद, सास व ससुर ने भी उसके साथ मारपीट की। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने सभी के खिलाफ मारपीट और 'द मुस्लिम वूमेन प्रोटेक्शन आफ राइट्स आन मैरिज सेकेंड आडिनेेंस 2019" की धारा 4 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया है। मामले में आरोपित पति को गिरफ्तार कर न्यायालय के आदेश पर जेल दाखिल करा दिया गया है।

बिकने नहीं देंगे नगरनार स्टील प्लांट : उद्योग मंत्री कवासी लखमा

सरगुजा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक केसी अग्रवाल ने बताया कि उत्तरप्रदेश के मऊ निवासी उज्जमा परवीन 25 वर्ष का विवाह मनेंद्रगढ़ के चैनपुर निवासी दिलसाद अख्तर से वर्ष 2013 में सामाजिक रीति-रिवाज से हुई थी। दोनों के चार बच्चे हैं। पीड़िता अभी पांच माह की गर्भ से है।

पुलिस को दिए बयान में पीड़िता बताया है कि 15 अगस्त की सुबह 10 बजे उसके पति दिलसाद अख्तर ने रुपयों की मांग की। इसपर उसने ब्याज में रुपये देने वाली महिला के पास से रुपये लाकर देने का आश्वासन दिया।

छत्‍तीसगढ़ में चार बच्चों के पिता ने गर्भवती पत्नी को दिया तीन तलाक, जुर्म दर्ज

पत्नी के जवाब से असंतुष्ट पति ने बेल्ट से उसकी पिटाई शुरू कर दी। शिकायत के मुताबिक आरोपित पति ने बोला कि तुम जैसी महिला को मुझे पत्नी बनाकर नहीं रखना है। पीड़िता का आरोप है कि घटना के वक्त देवर रमीज, ननद अफसाना, सास सकिला व ससुर नदीम भी वहां पहुंच गए। इन लोगों के ही कहने पर दिलसाद ने पीड़ितों को तीन बार तलाक बोल दिया।

जमीन विवाद पर छोटे भाई की तलवार मारकर हत्या

दो दिन बाद दर्ज कराई रिपोर्ट

पीड़िता के मुताबिक तलाक दिए जाने के बाद वह जान बचाकर ससुराल से भाग गई। माता-पिता को फोन कर घटना की जानकारी दी, तब मऊ उत्तरप्रदेश से मां हुसना परवीन और भाई अबु सहमा 17 अगस्त को उसके पास आए। परिजनों से चर्चा के बाद वह बच्चों को पति को सौंपना चाहती थी, लेकिन सुसुराल वालों ने बच्चों को रखने से मना कर दिया।

Bilaspur Shiv Temple : यहां विराजित है 10 फीट ऊंची अष्टमुखी शिव प्रतिमा

Jagdalpur : खदान में विस्फोट किया तो मिली 100 फीट लंबी गुफा, अंदर मिले कई 'शैलकक्ष'

Posted By: Hemant Upadhyay

fantasy cricket
fantasy cricket