अंबिकापुर।बलरामपुर के नवपदस्थ पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने पहली अपराध समीक्षा बैठक में अधिकारियों को चेताया है कि लापरवाही पर कार्रवाई के लिए तैयार रहें।ऐसा माहौल बनाएं की अपराधियों में खौफ हो और पुलिस के प्रति जनता के दिल में प्यार। बेसिक पुलिसिंग में किसी भी तरह की लापरवाही नहीं बरतने के सख्त निर्देश देते हुए उन्होंने अधिकारियों को लंबित प्रकरणों का निराकरण अभियान चलाकर करने के निर्देश दिए है।

पुलिस अधीक्षक का पदभार ग्रहण करने के बाद पहली बार बैठक में एसपी मोहित गर्ग ने जिले में लंबित अपराधों तथा महिला एवं बच्चों संबंधी अपराधों की समीक्षा कर लंबित प्रकरणों में कड़ी आपत्ति जताते हुए लंबित अपराध, लंबित चालान, लंबित मर्ग के निराकरण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए। फरियादियों को त्वरित न्याय दिलाने के लिए उनकी शिकायत रिपोर्ट पर तत्काल वैधानिक कार्रवाई सुनिश्चित करते हुए आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी करने हेतु निर्देशित किया। पुलिस अधीक्षक द्वारा निर्देशित किया गया कि अपराध घटित होने पर तत्काल पुलिस मौके पर पहुंचे।आम जनता का पुलिस के प्रति विश्वास तथा अपराधियों में पुलिस का खौफ हो प्रत्येक दिशा में अच्छा कार्य कर जनता के मन में पुलिस के प्रति विश्वास को बढ़ाना है।

सामुदायिक पुलिसिंग को और भी बेहतर करना है।पुलिस का मुख्य उद्देश्य जनता की सेवा करना है जिसके प्रति पुलिस अधिकारी, कर्मचारी को समर्पण भाव से करना है। थाना, चौकी के फरार आरोपितो की अविलंब गिरफ्तारी समय से पूर्व विवेचना पूर्ण कर चालान न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किए जाने हेतु निर्देशित किया।एसपी ने कहा कि फरियादियों द्वारा अपनी शिकायत लेकर थाना, चौकी, एसडीओपी कार्यालय व पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आने पर उनके साथ शालीन एवं मर्यादित व्यवहार करने एवं उनकी शिकायत आवेदन पर वैधानिक, उचित कार्यवाही सुनिश्चित किया जाए। वरिष्ठ कार्यालय से प्राप्त शिकायतों का निराकरण समय सीमा में किया जाना सुनिश्चित करें, लापरवाही पाए जाने पर दंडित करने की चेतावनी दी गई।पुलिस अधीक्षक द्वारा जनदर्शन से प्राप्त शिकायतो का सात दिवस के भीतर निराकरण करने हेतु निर्देशित किया गया।पुलिस अधीक्षक ने कहा कि आमजन की शिकायतों का त्वरित निराकरण करने हेतु जनदर्शन कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

जनदर्शन में प्राप्त शिकायतों का निराकरण समयावधि के भीतर करें। समयावधि में जांच प्रतिवेदन नही भेजने पर बिना स्पस्टीकरण लिए दंडात्मक कार्यवाही करने कहा गया। सायबर से संबंधित मामलों में सतकर्ता बरतने तथा थाना,चौकी क्षेत्र के लोगों को सतर्क रखने एवं गुम बालक- बालिकाओं के प्रकरणों में तत्काल टीम गठित कर खोजबीन करने हेतु सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए।उन्होंने थाना, चौकी प्रभारियों को अपने थाना क्षेत्र में पुलिसिंग व्यवस्था में कसावट लाने तथा एसडीओपी एवम थाना चौकी प्रभारी अपने- अपने क्षेत्र में शाम के बाद गश्त पर निकले तथा पेट्रोलिंग नियमित करें। बैंक, एटीएम चेक करें संदिग्ध व्यक्तियों पर सतत निगरानी रखने हेतु निर्देशित किया गया।बैठक में प्रशांत कतलम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आपरेशन, नारद कुमार सूर्यवंशी एसडीओपी रामानुजगंज, डीके सिंह उप पुलिस अधीक्षक नक्सल आपरेशन, जितेंद्र खूंटे उप पुलिस अधीक्षक अजाक, ज्योत्सना चौधरी उप पुलिस अधीक्षक बलरामपुर के अलावा थाना-चौकी प्रभारी उपस्थित रहे।

.....................

Posted By: Yogeshwar Sharma

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close