अंबिकापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

अमृत मिशन योजना के तहत शहर में चल रहे पाइप लाइन विस्तार के कार्य में गड़बड़ी व अमानक स्तर के पाइप का उपयोग किए जाने की शिकायत पर निगम आयुक्त हरेश मंडावी ने शुक्रवार को पाइप लाइन विस्तार कार्य का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान यह दावा किया गया कि उपयोग किए जा रहे पाइप की गुणवत्ता जांच अधिकृत एजेंसी से कराई जा चुकी है। निगम आयुक्त ने कार्य में तेजी लाने और तय समय सीमा में कार्य पूर्ण करने का निर्देश दिया है। आयुक्त ने निर्माण एजेंसी व नगर निगम के जल प्रदाय शाखा के अधिकारियों को हिदायद दी है कि इस गर्मी में अमृत मिशन योजना का लाभ मिलना चाहिए, इस बात का ख्याल रख सभी को पूरी प्राथमिकता के साथ यह कार्य करना होगा।

अमृत मिशन योजना के तहत घुनघुट्टा बांध से शहर में पानी लाने की योजना पर काम तेजी से चल रहा है। वर्तमान में शहर के घड़ी चौक से लेकर गांधी चौक के बीच पाइप लाइन बिछाने का काम चल रहा है। शहर के भीतरी क्षेत्र में चल रहे कार्य में तेजी की आवश्यकता भी महसूस की जा रही है। बिछाए जा रहे पाइप की गुणवत्ता के संबंध में लगातार शिकायत सामने आ रही थी। शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए निगम आयुक्त हरेश मंडावी अचानक गांधी चौक पहुंचे और बिछाए जा रहे पाइप की गुणवत्ता का परीक्षण किया। 500 मिमी व्यास एवं 100 मिमी व्यास के डकटाइल आयरन के पाइप का व्यास एवं पाइप मटेरियल के मोटाई की जांच मौके पर की गई। पाइप में जरूरी मापदंड सही पाए गए। पाइप में सीमेंट मार्टर लाइनिंग की मोटाई की माप भी सही पाई गई। निगम के जल प्रदाय शाखा के सहायक अभियंता एवं पीडीएमसी के इंजीनियरों ने बताया कि अमृत मिशन योजना के तहत बिछाए जा रहे समस्त पाइप की गुणवत्ता का परीक्षण जांच हेतु नियुक्त एजेंसी एसजीएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड मुंबई से कराया जा चुका है। निगम आयुक्त ने कार्य में तेजी एवं रिस्टोरेशन कार्य साथ-साथ करने ठेकेदार को निर्देशित किया गया। निगम आयुक्त ने कहा कि गर्मी में योजना का लाभ मिल सके, इसलिए तय समय सीमा में गर्मी से पहले यह कार्य पूर्ण हो जाना चाहिए। निगम आयुक्त ने चेताया है कि तय समय सीमा में कार्य पूर्ण करने इसे प्राथमिकता के साथ लिया जाए।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket