अंबिकापुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

जय समलाया वास्तु ज्योतिषी केंद्र द्वारा हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी नागपंचमी पर काल सर्प दोष शांति पूजन, महारुद्राभिषेक, एव्य महामृत्युंजय पूजन किया गया। देश, प्रदेश, शहर और जिले के शांति और समृद्धि के लिए कराए गए।

आयोजन में सरगुजा सहित दूसरे जिलों के भक्त भी पहुंचे व भगवान शंकर का जलाभिषेक किया। कार्यक्रम के सूत्रधार रहे पंडित योगेश नारायण मिश्र ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी भक्तों ने न सिर्फ बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। कार्यक्रम की जमकर सराहना भी आयोजन में शामिल भक्तों ने की। आयोजन को अन्य स्थानों पर भी कराने की मांग की, जिस पर पंडित योगेश नारायण मिश्र ने आश्वस्त किया कि आगे के वषोर् में यह आयोजन अलग-अलग स्थानों पर आयोजित किया जाएगा। जय समलाया वास्तु एवं ज्योतिष केंद्र द्वारा पिछले सात सालों से नाग पंचमी पर विशेष पूजा के साथ काल सर्प दोष शांति और 101 शिवलिंग का जलाभिषेक के साथ विशेष पूजा की जाती है। वाराणसी से पहुंचे ब्राह्मणों ने आयोजन में भक्तों के संकट को दूर करने के मंत्रोचार के जरिए कार्यक्रम को पूर्ण कराया एवं आहुति के बाद महाआरती भी की गई। इस दौरान विशेष रूप से 101 शिवलिंग बनाए गए थे। इस वर्ष भी सैकड़ों भक्तों ने कार्यक्रम में हिस्सा लेकर आयोजन में भागीदारी निभाई। आयोजन में पंडित अभिषेक पस्टारिया, अनिल पांडे, अंकित एवं प्रभु शर्मा ने पूजन कराया।

Posted By: Nai Dunia News Network