उदयपुर(नईदुनिया न्यूज)।उदयपुर थाना क्षेत्र के ग्राम खरसुरा में दो माह पूर्व हुए मौत के मामले में दंडाधिकारी की अनुमति के बाद पुलिस ने शव को बाहर निकलवाकर पोस्टमार्टम कराया है।बेटी ने पिता की हत्या किए जाने का आरोप लगाया था। उसी की शिकायत के आधार पर नए सिरे से जांच शुरू की गई है। जानकारी अनुसार ग्राम लब्जी की महिला ने दो दिन पहले पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौंपकर आरोप लगाया था कि ग्राम खरसूरा थाना उदयपुर निवासी उसके पिताजी जय नंदन कंवर 50 वर्ष की दो माह पूर्व हुई मौत स्वाभाविक नहीं है।

उनकी हत्या किए जाने का आरोप लगाया था। आवेदिका से प्राप्त आवेदन के आधार पर एसपी सरगुजा भावना गुप्ता द्वारा मामले को गंभीरता से लेते हुए थाना प्रभारी धीरेंद्र नाथ दुबे को तत्काल इस पर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया था।उक्त क्रम में बुधवार को शव को कब्र से निकलवाकर नायब तहसीलदार डा एजाज हाशमी तथा फोरेंसिक एक्सपर्ट, स्थानीय नागरिकों और थाना उदयपुर सहायक उप निरीक्षक रविंद्र प्रताप सिंह, प्रधान आरक्षक शत्रुघ्न सिंह तथा अन्य की मौजूदगी में शव का पंचनामा करवाया गया। मौके पर उपस्थित चिकित्सकों की टीम ने फोरेंसिक एक्सपर्ट के साथ मिलकर पोस्टमार्टम के दौरान शव से कुछ नमूने लिए है जिन्हें जांच के लिए प्रयोगशाला भेजा गया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मामले का खुलासा होगा कि जयनंदन कंवर की मौत स्वाभाविक थी या उसकी हत्या की गई है। ग्रामीणों ने बताया कि जयनंदन कंवर की मौत दो माह पूर्व हुई थी इसके घर वालों ने उस वक्त बताया था की जय नंदन सुबह शौच के लिए बाहर गया था। खेत की मेड़ से गिरकर इसकी मौत हो गई थी। सामाजिक रीति रिवाज से मृतक के शव को दफना दिया गया था। मृतक के परिवार में कुल पांच भाई थे। मृतक चौथे नंबर का भाई था। इन लोगों के बीच रुपयों के लेन देन को लेकर विवाद था। मृतक जयनंद्न की बेटी शिमला द्वारा अपने पिता की हत्या का आरोप लगाए जाने के बाद बुधवार को देर शाम तक पुलिस जांच में जुटी रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close