अंबिकापुर(नईदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना से बचाव के लिए समझाइश का असर न पड़ता देख सरगुजा, सूरजपुर और बलरामपुर जिले में पुलिस सख्त हो गई है। अनावश्यक घरों से बाहर निकलने वालों के साथ सख्ती बरती जा रही है। बिना किसी कारण घूमने निकले लोगों को शमिर्दगी भी उठानी पड़ी। कहीं कान पकड़कर उठक बैठक कराया गया तो कहीं 'मैं समाज का दुश्मन हूं' पोस्टर पकड़वाकर तस्वीरें खींची जा रही है। घुटने के बल जमीन पर बैठा संकल्प दिलाया जा रहा है कि अब मैं अकारण घर से बाहर नहीं निकलूंगा और शासन-प्रशासन के आदेशों का पालन करूंगा। पुलिस की सख्ती के बाद जागरूक लोग दूसरों को भी प्रेरित करने में लग गए हैं कि यदि कोई जरूरी काम नहीं है तो घर से बाहर ना निकले।

सरगुजा, सूरजपुर और बलरामपुर जिले के सभी थाना व चौकी क्षेत्र में पुलिस अधिकारी-कर्मचारी मुख्य मार्गों पर सुबह से लेकर देर शाम तक आवाजाही करने वालों से पूछताछ कर रहे हैं। ऐसे लोग जो अत्यावश्यक सामग्रियों की खरीदी अथवा ठोस कारण से घर से निकल रहे हैं, उनका परिचय पत्र देखकर आने जाने दिया जा रहा है। उन्हें भी यह समझाइश दी जा रही है कि घर से एकदम जरूरी हो तभी बाहर निकले अन्यथा घरों में ही रहे। दूसरी ओर कई ऐसे लोग सामने आ रहे हैं जो बिना कारण बाहर निकलकर शहर और अपने नगरीय इलाके की व्यवस्था देखने की कोशिश कर रहे हैं। सिगरेट, पान, गुटखा के शौकीन एक से दूसरी गली की खाक छान रहे हैं। ऐसे लोगों की पहचान तत्काल हो जाती है व उन्हें शमिर्दगी उठानी पड़ रही है। जो तस्वीरें और जो वीडियो सामने आ रहे हैं उससे तय है कि कई लोग अब भी लॉकडाउन की गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं। एक ऐसा ही वीडियो गुरुवार सुबह सामने आया। जब इस वीडियो की पड़ताल की गई तो पता चला कि यह अंबिकापुर-रामानुजगंज मुख्य मार्ग का है। यहां सड़क पर ड्यूटी में तैनात पुलिस अधिकारी व कर्मचारी बेवजह घरों से निकले लोगों को दोबारा गलती न करने की समझाइश देते नजर आए। एक कार चालक से जब पूछा गया कि वह क्यों बाहर निकला है तो एक निजी चिकित्सक के यहां जाने की जानकारी देने पर पुलिस अधिकारी ने समझाया कि शासकीय अस्पताल में सारी व्यवस्था की गई है। कार चालक ने मास्क भी नहीं लगाया था। उसे सड़क पर घुटने के बल बैठा संकल्प दिलाया गया कि अब वह अकारण घर से नहीं निकलेगा। लॉकडाउन के निर्देशों का पालन करेगा तथा सुरक्षा उपायों के तहत मास्क का भी इस्तेमाल करेगा इसके बाद उसे जाने दिया गया। बाइक चालकों को भी पुलिस इसी अंदाज में समझाइश देती नजर आई। वायरल वीडियो से स्पष्ट हुआ कि पुलिस किसी के साथ मारपीट नहीं कर रही लेकिन चेतावनी दे रही है कि यदि अब अकारण घरों से बाहर निकले तो उनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई होगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket