अंबिकापुर। नईदुनिया प्रतिनिधि

सैनिक स्कूल अंबिकापुर में थल सेना दिवस मनाया गया। 14 जनवरी को साइकिल रैली का आयोजन किया गया। सैनिक स्कूल अंबिकापुर के प्राचार्य कर्नल जितेंद्र डोगरा ने उप प्राचार्य लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसून कांति गोस्वामी तथा प्रशासनिक अधिकारी मेजर एस रोलैंड सिंह सहित 30 कैडेटों को दशमेश पब्लिक स्कूल तक लगभग 17 किलोमीटर की साइकिल रैली के लिए रवाना किया। दशमेश पब्लिक स्कूल में उप प्राचार्य द्वारा एक प्रेरक व्याख्यान दिया गया, जिसमें उन्होंने उस विद्यालय के विद्यार्थियों को भारतीय सैन्य सेवाओं में भर्ती के लिए प्रेरित किया। उन्होंने थल सेना दिवस के महत्व पर प्रकाश डालते हुए भारत के वीर सिपाहियों और सीमा प्रहरी सैनिकों के बलिदानों को भी याद रखने का संदेश दिया।

थल सेना दिवस के अवसर पर 'रन फॉर हेल्थ' का आयोजन किया गया। इसमें प्राचार्य, उप प्रचार्य, प्रशासनिक अधिकारी तथा समस्त कर्मचारियों सहित स्कूल के सभी कैडेटों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। सैनिक स्कूल अंबिकापुर में विशेष प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया, जिसमें स्कूल के सभी कैडेट, शिक्षकगण, प्रशासनिक कर्मचारीगण तथा सामान्य कर्मचारी उपस्थित हुए। कैडेट नीरज जयसिंधु ने थल सेना दिवस के महत्व पर प्रकाश डाला। प्रार्थना सभा में प्राचार्य कर्नल जितेंद्र डोगरा ने थल सेना की उपलब्धियों और संभावनाओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने भारतीय थल सेना की उत्कृष्ट सेवाओं का उल्लेख करते हुए कैडेटों को भारतीय सेना में सेवा करने के लिए पे्रेरित किया। इस अवसर पर उन्होंने कैडेटों, समस्त कर्मचारियों तथा उनके परिवारों को थल सेना दिवस की हार्दिक बधाइयां दीं। सैनिक स्कूल के प्राचार्य कर्नल जितेंद्र डोगरा द्वारा अंबिकापुर क्षेत्र के सेवामुक्त सैनिकों एवं सैन्य अधिकारियों को आमंत्रित किया गया। इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल बीके पाण्डेय सहित लगभग 28 पूर्व सैनिक इस अवसर पर उपस्थित हुए और थल सेना दिवस के आयोजन को यादगार बनाया। सैनिक स्कूल के हॉल में दिल्ली में होने वाली विशेष थल सेना परेड का प्रदर्शन कैडेटों के लिए किया गया। कैडेटों ने तीनों सेना प्रमुखों के सामने सैन्य टुकड़ियों द्वारा प्रस्तुत की गई शानदार परेड का अवलोकन किया। सैनिक स्कूल अंबिकापुर के संस्थापक प्राचार्य कैप्टन डा. महेश कांडपाल तथा जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल बीके पाण्डेय विशेष रूप से आमंत्रित थे। इनके अतिरिक्त स्कूल में कार्यरत पूर्व सैनिक एवं एनसीसी स्टाफ, सभी विभाग प्रमुख, वरिष्ठ पीटीआई सहित इस वर्ष संघ लोक सेवा आयोग की एनडीए की लिखित परीक्षा में सफल 19 कैडेट भी शामिल हुए।

Posted By: Nai Dunia News Network

fantasy cricket
fantasy cricket