0 लोगों की भीड़ पीछे पड़ी तो बाइक छोड़ पैदल भागने लगे थे आरोपी

0 दिनदहाड़े दुकान से लूट लिया था लगभग दो लाख का जेवर

0 रामानुजगंज पुलिस कर रही पूछताछ, लूटे गए जेवरात नहीं मिले

रामानुजगंज/अंबिकापुर । नईदुनिया न्यूज

झारखंड सरहद से लगे बलरामपुर जिले के रामानुजगंज मुख्य बाजार में दिनदहाड़े दो युवकों ने ज्वेलरी शॉप में घुसकर जेवरातों की लूट की घटना को अंजाम दिया। लगभग दो लाख की लूट के इस मामले में स्थानीय नागरिकों व पुलिस की तत्परता से दोनों आरोपियों को तो धरदबोचा गया लेकिन जिस तरीके से वारदात हुई, उससे रामानुजगंज के व्यवसायी भी सहम उठे। भागते वक्त दोनों आरोपियों द्वारा पीछा कर रहे लोगों को गोली मारने की धमकी भी दी जा रही थी। ट्रक में चढ़कर भी भागने का प्रयास आरोपियों द्वारा किया गया, लेकिन सफलता नहीं मिल सकी। रामानुजगंज पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

जानकारी के मुताबिक रामानुजगंज के व्यस्ततम मध्यबाजार में एमआर ज्वेलर्स दुकान संचालित है। मंगलवार दोपहर दुकान का मालिक मोहन माझी, पत्नी के साथ दुकान में मौजूद था। उसी दौरान दो युवक दुकान में घुसे। मंगलसूत्र खरीदने के बहाने दुकान में घुसे आरोपियों द्वारा सुनियोजित तरीके से गल्ले में हाथ डालकर ज्वेलरी निकाल लिया। दुकान संचालक मोहन माझी ने जब जेवरात निकालने वाले युवक को पकड़ना चाहा तो उसने व्यवसायी का गला पकड़ दूर धकेल दिया। तेजी से दोनों युवक दुकान से बाहर निकले। दुकान के बाहर आरोपियों ने संभवतः पल्सर बाइक को खड़ी कर रखी थी। बाहर निकलते ही पल्सर में सवार होकर दोनों तेजी से भागने लगे। इधर दुकान संचालक की शोरगुल सुनकर आम लोगों को घटना की खबर लगी तो वे भी लुटेरों को पकड़ने के प्रयास में लग गए। पुलिस को भी सूचना दी गई। बाजार में भीड़भाड़ अधिक होने के कारण लुटेरों को लगा कि वे पकड़े जाएंगे, इसलिए पल्सर को मनोकामना दुकान के सामने खड़ी कर पैदल ही दौड़ने लगे। दौड़ते-दौड़ते रंगीला चौक के पास आरोपी चलती ट्रक में चढ़ गए। लगभग 50 के स्पीड में ट्रक चल रही थी, लेकिन एक आरोपी ट्रक के आगे व दूसरा आरोपी ट्रक के पीछे डाले में चढ़ा। पीछे नगरवासियों की भीड़ व पुलिसकर्मियों के भी पीछा करने से वे गोली मार देने की धमकी दे रहे थे। पकड़े जाने के भय से दोनों थोड़ी दूर बाद ट्रक से कूद गए। एक लुटेरे को गुदरमारा शिवमंदिर के पास व दूसरे को मां शारदा स्कूल के पास पकड़ा गया। दोनों युवकों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। आरोपियों के कब्जे से लूट का सामान फिलहाल बरामद नहीं हो पाया है। घटना की सूचना पर नगर पंचायत अध्यक्ष रमन अग्रवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधि भी मौके पर पहुंच गए थे।

भीड़ को कर रहे थे भ्रमित

दिनदहाड़े ज्वेलरी शॉप में लूट की घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी तेजी से भाग निकले थे। उन्हें संभवतः इस बात का आभास नहीं था कि रामानुजगंजवासियों की भीड़ उनके पीछे लग जाएगी। जैसे ही घटना की खबर लोगों को लगी और लोगों ने उनका पीछा करना शुरू किया तो लुटेरे भी लोगों को भ्रमित करने के प्रयास में जुट गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि लुटेरे बीच-बीच में चोरे-चोर का हल्ला कर रहे थे। ऐसी परिस्थिति वे पकड़े जाने के भय से बना रहे थे। दूसरे की ओर इशारा कर लोगों को भ्रमित करने में भी उन्होंने कोई कसर बाकी नहीं रखी। लेकिन उनका यह प्लान भी फेल हो गया।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए लुटेरे

रामानुजगंज के मुख्य बाजार स्थित ज्वेलरी शॉप से लूट की वारदात को अंजाम देने वाले दोनों लुटेरे बाइक से नहीं भाग सके तो पैदल ही आगे-पीछे दौड़ लगाना शुरू कर दिए थे। स्टेट बैंक मार्ग में भागते लुटेरों की तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। इसमें उनका चेहरा तो नजर नहीं आ रहा है, लेकिन भागते वक्त से पीछे की तस्वीर कैद हुई है। संभावना जताई जा रही है कि दोनों लुटेरे पेशेवर अपराधी हैं। पुलिस पूछताछ के बाद मामले का खुलासा करने की जानकारी दे रही है।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local