अम्बिकापुर। सूरजपुर जिले के ग्राम सिरसी निवासी मनबोध पैकरा पिता स्व दशरथ पैकरा 30 वर्ष की सर्पदंश से मौत हो गई। मृतक बुधवार-गुरुवार की रात घर मे खाना खाने के बाद जमीन में बिस्तर लगाकर मच्छरदानी के अंदर सो रहा था।

गुरुवार की अलसुबह 3 बजे उसे हाथ मे कुछ काटने का एहसास हुआ, उठकर देखा तो उसे कुछ नजर नही आया और वह सो गया। 3.30 बजे हाथ मे खिंचाव और दर्द का एहसास होने पर वह उठा और बिस्तर में डंडा करैत सांप देखकर उसके होश उड़ गए।

सांप को मारने के बाद उसे आंगन में रखा और पुनः सो गया। सुबह 5 बजे तकलीफ बढ़ने पर दूसरे कमरे में सो रही मां को बिस्तर में सांप के घुसने और उसे मारकर आंगन में रखने की जानकारी दिया।

आंगन में रखे सांप को परिजनों ने देखा और दर्द से कराह रहे युवक को लेकर अस्पताल पहुंचे। इस बीच वह बातचीत कर रहा था। यहां से रेफर करने पर उसे संजीवनी 108 से मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया, जहां जांच के बाद चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों के सुपुर्द कर दिया है।