शंकरगढ़ (नईदुनिया न्यूज)। ब्लाक मुख्यालय शंकरगढ़ में जनपद और ग्राम पंचायत द्वारा आवंटित दुकानों की बिक्री और किराए में देने की शिकायत पर शुक्रवार को नायब तहसीलदार उमा सिंह ने राजस्व व पुलिस टीम के साथ दुकानों के स्वामित्व की जांच की। कुछ दुकानों के संचालन में मूल स्वामी के बजाय दूसरे लोगों को दे देने का मामला भी सामने आया। अधिकांश दुकानों का किराया बकाया पाया गया। एक वर्ष से लेकर चार वर्ष तक के बकाया किराए की राशि तीन दिन में जमा करने का निर्देश नायब तहसीलदार ने दिया है। प्रशासनिक जांच से दुकानदारों में हड़कंप मचा रहा।

शंकरगढ़ में जनपद पंचायत और ग्राम पंचायत की ओर से कई दुकानों का निर्माण कराया गया है। दोनों पंचायत की ओर से दुकानें आबंटित की गई हैं। प्रतिमाह किराया जमा करने का प्रावधान भी किया गया है। प्रशासन तक यह शिकायत पहुंची थी कि जिन लोगों ने दुकानें प्राप्त की हैं, उनमें से कई ने अपनी दुकानों को जनपद और ग्राम पंचायत की जानकारी के बिना बिक्री कर दी है। मूल स्वामित्व बदलकर किराए में भी दुकानों का संचालन कराया जा रहा है जो नियमों के विपरीत है। कई दुकानों का किराया जमा नहीं किए जाने की भी शिकायत सामने आई थी। शिकायतों की गंभीरता को देखते हुए नायब तहसीलदार उमा सिंह ने शुक्रवार को राजस्व और पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारियों को साथ लेकर शंकरगढ़ बस स्टैंड सहित दूसरे व्यवसायिक क्षेत्रों में निर्मित दुकानों की आवश्यक जांच की। जांच के दौरान दुकान प्राप्त करने वाले कई मूल स्वामी आकर अपनी-अपनी दुकानों में बैठ गए थे और उन्होंने दुकानों का संचालन खुद करने की जानकारी दी। कुछ दुकानों में अनियमितता पाई गई। स्वयं सहायता समूह के नाम से आवंटित दुकानों में स्वजनों द्वारा व्यवसाय किए जाने का भी पता चला। किराया की जांच में बड़े पैमाने पर विसंगति पाई गई। कई व्यवसायियों द्वारा चार वर्ष के किराए की राशि भी जमा नहीं की गई है। नायब तहसीलदार ने दस्तावेजों के साथ एक-एक दुकानों के मूल स्वामित्व और किराया की जांच की। ऐसे दुकानदार जिन्होंने किराया जमा नहीं किया है उन सभी को तीन दिन की मोहलत दी गई है। तीन दिन में किराए की राशि जमा नहीं करने पर कार्रवाई की चेतावनी दी गई है। इस पूरी जांच कार्रवाई के दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव और नियंत्रण के लिए जारी निर्देशों का खुला उल्लंघन किया गया। लोगों की भारी भीड़ जमा रही।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस