बिश्रामपुर (नईदुनिया न्यूज)। लटोरी चौकी से पांच किलोमीटर दूर बृजनगर गांव में देर रात 15 वर्षीय किशोर की धारदार हथियार से प्राणघातक हमला कर हत्या करने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। मामला प्रेम प्रसंग का बताया जा रहा है। लटोरी पुलिस हत्या का अपराध दर्ज कर अंधे कत्ल के आरोपितों तक पहुंचने मशक्कत कर रही है। हत्या की घटना के बाद गांव में सनसनी का माहौल है।

घटना जयनगर थाना क्षेत्र के लटोरी चौकी अंतर्गत ग्राम बृजनगर के घुटरी पारा की है। बताया गया कि गांव के घुटरी पारा निवासी राजेंद्र राजवाड़े का 15 वर्षीय पुत्र रितिक सहारा पब्लिक स्कूल लटोरी के कक्षा दसवीं का छात्र था। वह बीते शुक्रवार की रात 11 बजे तक अपने पिता के मोबाइल से गजाधरपुर में रहने वाले अपने फुफेरे भाई के साथ गेम खेल रहा था। उसके बाद वह अपने कमरे में सो गया था। देर रात करीब तीन बजे नींद खुलने पर उसके पिता राजेंद्र राजवाड़े ने देखा कि उसके पुत्र के रूम का दरवाजा खुला है। उसने देखा कि उसका पुत्र रितिक अपने कमरे में नहीं है। जिस पर परिजनों ने उसकी तलाश की उसके दोस्तों से मोबाइल पर संपर्क करने पर भी रितिक के बारे में कोई जानकारी उन्हें नहीं मिली। पता तलाश के दौरान शनिवार को सुबह घर से करीब दो सौ मीटर की दूरी पर स्थित तालाब की मेढ़ में झाड़ियों में रितिक का शव संदिग्ध अवस्था में मिला। उसके कान एवं गर्दन में तेज धारदार हथियार से हमला किया जाना पाया गया। परिजनों ने घटना की सूचना तत्काल लटोरी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही चौकी प्रभारी सुनील सिंह समेत पुलिस टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच प्रारंभ कर दी। इसी बीच मामले की गंभीरता को देखते हुए सूरजपुर एसपी भावना गुप्ता के निर्देश पर एडिशनल एसपी हरीश राठौर समेत जयनगर टीआई दीपक पासवान के अलावा वरिष्ठ वैज्ञानिक अधिकारी कुलदीप कुजूर एवं पुलिस डाग की टीम भी मौके पर पहुंच गई।

नवनिर्मित मकान में की गई हत्या-

जांच के दौरान पाया गया कि छात्र रितिक की हत्या उसके घर से दो सौ मीटर दूर गांव के ही देवा राजवाड़े के निर्माणाधीन मकान में की गई है। निर्माणाधीन मकान में खून के निशान एवं मृतक रितिक की चप्पल मिलने से स्पष्ट हो गया कि उसकी हत्या देवा राजवाड़े के नवनिर्मित मकान में की गई है। हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद हत्याकांड के आरोपितों द्वारा रितिक के खून से लथपथ शव को नवनिर्मित मकान से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर स्थित तालाब के मेढ़ की झाड़ियों में फेंक दिया था। लटोरी पुलिस ने मामले में धारा 302, 201 के तहत हत्या का अपराध दर्ज कर लिया है। पुलिस अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझाने के प्रयास में जुट गई है।

बयान-

मामला स्पष्ट तौर पर हत्या का है। पुलिस हत्या का अपराध दर्ज कर हत्याकांड के आरोपितों तक पहुंचने की हर संभव कोशिश कर रही है। मामले से जुड़े सभी बिंदुओं की बारीकी से जांच की जा रही है।

दीपक पासवान

टीआई जयनगर

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local