अंबिकापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। नगर निगम क्षेत्र के नागरिकों को अब भवन अनुज्ञा के लिए अपर कलेक्टर कार्यालय जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। भवन अनुज्ञा के लिए अपर कलेक्टर की अनुमति की व्यवस्था को महापौर परिषद ने गुरुवार को समाप्त करने का निर्णय ले लिया है। परिषद की बैठक के दौरान लोक निर्माण विभाग के प्रभारी व राज्य श्रम कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष शफी अहमद ने अवगत कराया कि भवन अनुज्ञा के लिए अपर कलेक्टर की अनुमति किसी भी नगरीय निकाय में नहीं ली जाती है। न हीं ऐसी कोई नियमावली है, ऐसे में अंबिकापुर नगरीय क्षेत्र के लोग बेवजह परेशान होते हैं और भवन अनुज्ञा की अनुमति लेने महीनों चक्कर काटते हैं। महापौर परिषद के इस बड़े निर्णय से अब शहर के नागरिकों को बड़ी राहत मिल गई है।

महापौर परिषद की बैठक नगर निगम प्रशासनिक भवन में महापौर डा.अजय तिर्की की अध्यक्षता में आयोजित हुई, जिसमें कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। बिजली शवदाह गृह के लिए शासन ने 48 लाख की स्वीकृति प्रदान की है, किंतु न्यूनतम 59 लाख का निविदा आया है। ऐसे में लगभग 10 लाख की राशि कम कर निर्माण एजेंसी को 49 लाख में निर्माण कार्य कराने की स्वीकृति प्रदान की की गई है। होडिर्ग बोर्ड लगाने के लिए तीसरी बार आए निविदा को स्वीकृति मिल गई है। महापौर परिषद ने शहर के तीन जोन में होडिर्ग बोर्ड लगाने के लिए प्राप्त निविदा पर मुहर लगा दी है। शेष जोन के लिए नए सिरे से निविदा आमंत्रित किया जा सकता है। परिषद ने विभिन्न निर्माण कार्य की स्वीकृति भी प्रदान की है, वहीं विभिन्न पेंशन योजनाओं के लिए प्राप्त आवेदनों को भी स्वीकृत कर दिया गया है। महापौर परिषद की बैठक में लोक निर्माण विभाग प्रभारी शफी अहमद, बाजार प्रभारी मेराज अंसारी गुड्डू, राजस्व प्रभारी विनोद एक्का, स्वच्छता प्रभारी सदस्य शैलेंद्र सोनी, महिला बाल विकास विभाग के प्रभारी सदस्य गीता प्रजापति, देवेंद्र सिंह रावत, आयुक्त प्रभाकर पांडेय, कार्यपालन अभियंता सुनील सिंह उपस्थित थे।

नागरिकों से जानकारी मिलते ही करें त्वरित कार्रवाई-

महापौर परिषद के सदस्य व लोक निर्माण विभाग प्रभारी शफी अहमद ने अधिकारियों से कहा है कि नागरिकों व किसी भी जनप्रतिनिधि की ओर से बारिश के दौरान सड़क व नाली के खस्ता हालत व जाम होने की जानकारी आए तो त्वरित कार्रवाई करें। शहर की सड़कों में बने गड्ढों को भरने का काम करें, ताकि बारिश में किसी तरह की दुर्घटनाएं न हों। उन्होंने सभी पार्षदों अपने अपने क्षेत्र की सड़कों व नालियों की स्थिति पर नजर रखने कहा है।

स्टेडियम ग्राउंड में इंडोर हाल अब बनेगा-

महापौर परिषद ने लगभग 20 करोड़ के निर्माण कार्य पर मुहर लगा दी है। पांच करोड़ की राशि अधोसंरचना मद से स्वीकृत किया गया है, जिसमें हर वार्ड में निर्माण कार्य होगा। सड़क, नाली के लिए विभिन्न वाडोर् में 10 करोड़ के निर्माण कार्य पर मुहर लगाई गई है,वहीं पहले से स्वीकृत चार करोड़ के टेंडर पर भी मुहर लगा दी गई है, जिससे स्टेडियम ग्राउंड में इंडोर हाल का निर्माण होगा।

मोर जमीन मोर मकान-आठ सौ निर्माण शुरू नहीं-

महापौर परिषद ने मोर जमीन मोर मकान योजना के तहत भवनों के निर्माण व निर्माणाधीन मकानों की जानकारी पार्षदों को दी गई। बताया गया कि अब तक इस योजना के तहत शहर में 782 मकान बन चुके हैं। 502 मकान निर्माणाधीन हैं व 800 मकानों का निर्माण शुरू नहीं हुआ है। महापौर डा.अजय तिर्की व पीडब्ल्यूडी प्रभारी शफी अहमद ने सभी पार्षदों से कहा है कि मकानों के निर्माण में मदद करें और आगे आएं। अपने-अपने वार्डों की जिम्मेदारी लें। उधर मोर मकान मोर चिन्हारी योजना के तहत शहर में 3422 मकानों का निर्माण स्वीकृत है, जिसमें 498 मकान का निर्माण पूर्णता की ओर है। पीडब्ल्यूडी प्रभारी शफी अहमद ने बताया कि शेष मकानों का निर्माण भी होगा क्योंकि अब शहर के विभिन्न स्थानों पर जमीन निगम को मिली है।

जाति प्रमाणपत्र को लेकर भड़के महापौर-

जाति प्रमाणपत्र के निर्माण को लेकर सामान्य सभा में निर्णय पारित हुआ है। बावजूद इसके जाति प्रमाण पत्र अधिकारी कर्मचारियों के कारण लंबित है। इसको लेकर महापौर परिषद की बैठक में अधिकारियों पर महापौर डा.अजय तिर्की काफी नाराज हुए। उन्होंने कहा कि जब सामान्य सभा में जाति प्रमाणपत्र को लेकर निर्णय ले लिया गया है इसके बाद भी जाति प्रमाणपत्र क्यों नहीं बनाया जा रहा है। मौके पर जाकर सभी जिम्मेदार अधिकारी सत्यापन करें और प्रमाणपत्र बनाकर तत्काल दें।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags