अंबिकापुर (नईदुनिया प्रतिनिधि)। महात्मा गांधी ने आजादी के पूर्व ही हमें स्वच्छता का संदेश दिया और सामाजिक एवं व्यक्तिगत स्वच्छता को लेकर देश को जागरूकता की सीख दी। इस कार्यक्रम में आने के पूर्व मुझे लगा केवल स्वच्छता पखवाड़ा का समापन होगा, लेकिन यहां आकर यहां के कार्यक्रम को देख कर ऐसा लगा कि आप लोगों ने स्वच्छता के साथ हर क्षेत्र को छुआ है। महिला सशक्तिकरण, पर्यावरण, शौचालय की उपयोगिता, रोको-टोको अभियान, मास्क निर्माण एवं वितरण सहित हर वह क्षेत्र की जहां पर कार्य करने की जरूरत है आप सब ने कार्य किया है, आपका यह कार्य सराहनीय है। पुलिस केवल चोर-बदमाशों को पकड़ने के लिए नहीं है, वह भी आपके साथ कार्य कर सकती है, आगे से जब भी स्वच्छता पखवाड़ा या कोई अन्य कार्यक्रम हो हमें जानकारी दें, हम सब आपके साथ जुड़ कर लोगों के बीच जाएंगे और सामाजिक कार्यक्रमों में सहभागिता निभाएंगे।यह बाते पुलिस अधीक्षक सरगुजा अमित तुकाराम काम्बले ने जन शिक्षण संस्थान सरगुजा एवं सरगुजा साइंस ग्रुप के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित स्वच्छता पखवाड़ा के समापन अवसर पर कही। पुलिस अधीक्षक काम्बले ने कहा कि पुलिस केवल हम खाकी वाले नहीं हैं, आप सब भी पुलिस हैं, हर कोई समाज को स्वच्छ, सुंदर, सुव्यवस्थित बनाने अपने स्तर पर प्रयासरत हैं। हम सब को स्वच्छ, सुंदर जिला एवं प्रदेश, देश के निर्माण में सहभागिता निभानी है। पखवाड़े भर हुए आयोजन की जानकारी जन शिक्षण संस्थान के निदेशक एम. सिद्दीकी ने दी। साक्षर भारत के डीपीओ गिरीश गुप्ता ने साक्षरता के लिए जिले में चल रहे कायोर् की जानकारी दी और स्वच्छता पखवाड़ा अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग, स्काउट्स गाइड, शिक्षा विभाग, पुलिस विभाग सहित विभिन्न विभागों द्वारा मिले सहयोग के लिए आभार जताया। सरगुजा साइंस ग्रुप के संस्थापक अंचल ओझा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्वच्छ्ता के विभिन्न आयामों पर प्रकाश डाला। इस दौरान संस्था द्वारा किए जा रहे मासिक स्वच्छता प्रबंधन, शौचालय की उपयोगिता पर जागरूकता कार्यक्रम, स्वच्छ ग्राम के निर्माण हेतु चल रहे कार्य से ब्यापक परिवर्तन आया है। सामाजिक कार्यकर्ता वंदना दत्ता ने अंबिकापुर में चल रहे एसएलआरएम सेंटर की उपयोगिता एवं महिलाओं के द्वारा किए जा रहे स्वच्छता के कार्य की सराहना की। कार्यक्रम को सरगुजा तम्बाकू मुक्त के नोडल अधिकारी डा. शैलेंद्र गुप्ता, शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डा. अमीन फिरदौसी, सहायक संचालक सीएसएसडीए ललित पटेल ने भी संबोधित किया। इस दौरान स्वच्छता पखवाड़ा अन्तर्गत संचालीत विभिन्न कार्यक्रमों के लिए स्वयंसेवकों को मुख्य अथिति पुलिस अधीक्षक सरगुजा अमित तुकाराम काम्बले ने सम्मानित किया। तम्बाकू मुक्त सरगुजा की टीम के विशेष कार्य के लिए डा. शैलेन्द्र गुप्ता, कोविड के कायोर् हेतु डा. अमीन फिरदौसी, रोको-टोको अभियान के लिए संस्कार पटेल एवं बाल प्रतिमा भगत, मासिक स्वच्छता प्रबंधन के लिए प्रोजेक्ट इज्जत प्रतापपुर के टीम लीडर सुजीत मौर्य एवं उनकी टीम को, महिला सशक्तिकरण के लिए वंदना दत्ता एवं सरगुजा साइंस ग्रुप की लुंड्रा टीम को, स्नैक मैन सत्यम द्विवेदी को, मास्क निर्माण एवं निश्शुल्क वितरण हेतु इंद्रजीत सिंह धंजल व कुलविंदर कौर, स्काउट्स गाइड के त्रिभुवन शर्मा सहित स्वच्छता को लेकर आयोजित कविता, भाषण, पेंटिंग, मेहंदी, मास्क निर्माण, निबंध, अपशिष्ट प्रबंधन पर चर्चा, स्लोगन, प्रश्नोत्तरी, चित्रकला, व्यक्तिगत स्वच्छता, वाद-विवाद सहित विभिन्न प्रतियोगिता के प्रतियोगियों एवं विभिन्न ट्रेडों के प्रशिक्षणार्थियों को अतिथियों ने प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया। मंच संचालन सुनीता दास ने एवं आभार प्रदर्शन अशोक सिंह ने किया। इस दौरान ज्योति सिंह, जागृति मिंज, अजित पाल मिंज, अंजना कुजूर, राजकुमारी सोनपाकर, प्रतिमा सिंह, साक्षी गुप्ता, मुन्नी पांडेय, संतोषी मिंज, तरसिला मिंज, आभा किरण खलखो, शिल्पी रानी, नीलिमा किंडो, सीमा डे, इंद्रावती लकड़ा, कृपांति मिंज, नीलू मिंज, अजय सिंह, रेणु पांडेय, पवित्रा प्रधान, रमेश कुमार, स्नेहलता, विवेक सिंह, अंजुलेस, वंदना मानिकपुरी, कहकशा परवीन, अंजुमाला, अजित सहित काफी संख्या में प्रतिभागी एवं स्वयंसेवक उपस्थित थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local