अंबिकापुर । नईदुनिया प्रतिनिधि

हाइटेंशन की चपेट में आने से ट्रक में क्लीनर का काम करने वाले मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिला अंतर्गत चितरंगी थाना क्षेत्र के बेलहवां निवासी कांता प्रसाद नाई पिता रघुनाथ प्रसाद नाई 22 वर्ष की मौत हो गई। मृतक के पिता ने पुलिस को बताया कि पड़ोस में रहने वाला रमेश कुमार साहू ट्रक चालक का काम करता है, जिसके साथ हेल्पर का काम करने के लिए कांता प्रसाद 27 जुलाई को घर से निकला था, इसके बाद वह वापस घर नहीं आया। मंगलवार की शाम करीब पांच बजे ट्रक चालक ने फोन कर बताया कि कांता को करंट लग गया है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बुधवार को इसकी जानकारी मिलने पर वे अंबिकापुर पहुंचे तो ट्रक चालक से जानकारी मिली कि रायपुर से ट्रक में सीमेंट लोड कर वे मंगलवार की शाम करीब 4.45 बजे सिलफिली मदनपुर गए थे। यहां सीमेंट खाली करने के बाद सड़क पार करते समय बीच में झूल रहे 11 हजार किलोवॉट के तार को लकड़ी से उठाकर क्लीनर कांता प्रसाद ट्रक को सुरक्षित पार करवा रहा था। इसी दौरान तार के छटकने से संभवतः शरीर से तार टच हुआ और तेज आवाज के साथ वह एक झटके में ट्रक के डाला में गिर गया था। ट्रक को कुछ आगे बढ़ाने के बाद वह रोका तो हेल्पर डाला में गिरा था, लेकिन उसकी सांस चल रही थी। एंबुलेंस नहीं मिलने पर वह हेल्पर को ट्रक से लेकर अंबिकापुर के एक निजी अस्पताल पहुंचा, जहां चिकित्सक उसे भर्ती करने से मना करने पर मेडिकल कॉलेज अस्पताल लाया गया था, जहां 7.45 बजे चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम कराया है।