वाड्रफनगर (नईदुनिया न्यूज)। बलरामपुर जिले के वाड्रफनगर वन परिक्षेत्र अंतर्गत मानपुर के जंगल से 59 नग साल का चिरान लोड कर रात के अंधेरे में उत्तरप्रदेश ले जा रहे दो आरोपितों को गिरफ्तार कर वन विभाग की टीम ने लकड़ी लोड पिकअप को भी जब्त कर लिया है। पिकअप मालिक और स्थानीय स्तर पर लकड़ी उपलब्ध कराने वाले का नाम भी सामने आ गया है।

वाड्रफनगर रेंजर अशोक तिवारी ने बताया कि वनमण्डलाधिकारी बलरामपुर लक्ष्मण सिंह के निर्देशन एवं एस सिंहदेव संयुक्त वनमण्डलाधिकारी वाड्रफनगर के मार्गदर्शन में संगठित वन अपराध की रोकथाम की सघन मुहिम चलाई जा रही है। वनमंडलाधिकारी बलरामपुर लक्ष्मण सिंह एवं उनकी टीम भी सीमावर्ती क्षेत्रों का लगातार भ्रमण कर रही है। गुरुवार की रात सूचना मिली कि वनखण्ड मानपुर से अवैध रूप से साल चिरान 59 नग लोड कर पिकअप वाहन क्रमांक यूपी 64 एटी-6114 उत्तरप्रदेश की ओर जा रही है। सूचना पर डीएफओ के नेतृत्व में रात्रि गश्त कर रही टीम द्वारा अवैध रूप से परिवहन करने पर वनमण्डलाधिकारी बलरामपुर की टीम ने वाहन को जब्त किया। मामले की सूचना प्रथम श्रेणी न्यायालय मजिस्ट्रेट वाड्रफनगर को दे दी गई है एवं प्राधिकृत अधिकारी एवं संयुक्त वनमण्डलाधिकारी वाड्रफनगर द्वारा उक्त वाहन पर राजसात की कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। पूछताछ में पता चला कि पिकअप वाहन मालिक अजय कुमार ग्राम बैना थाना बभनी तहसील दुद्धी, जिला सोनभद्र उत्तरप्रदेश का निवासी है। अवैध रूप से इमारती साल लकड़ी उत्तरप्रदेश राज्य में खपाने के उद्देश्य से ले जाई जा रही थी। साल लकड़ी परिवहन करने में संलिप्त आरोपित चालक ग्राम बैना थाना बभनी निवासी अरूण कुमार उसके सहयोगी के रूप में अरूण को भी पकड़ा गया है। इन दोनों आरोपितों से पूछताछ करने पर पता चला कि ग्राम सुरहर के धरमसाय से सम्पर्क कर 59 नग साल चिरान लोड कर व्यापारिक उद्देश्य से ले जा रहे थे। कार्रवाई में वनमण्डलाधिकारी बलरामपुर लक्ष्मण सिंह की टीम, वनपरिक्षेत्राधिकारी धमनी अजय वर्मा की टीम के अलावा वनपरिक्षेत्र वाड्रफनगर की टीम में वनपाल सुरेश प्रसाद यादव, लोचन प्रसाद यादव, विजय कुमार सिंह, घनश्याम शर्मा, कौशल कुमार पैकरा वनरक्षक में रूपप्रसाद, गंगा राम, मनदेव प्रसाद गुप्ता, मनेजर यादव, संजय श्रीवास्तव, एवं अन्य स्टाफ मौजूद रहे। रेंजर ने बताया कि उत्तरप्रदेश और झारखंड से लगे बलरामपुर जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में सघन गश्त किया जा रहा है ताकि लकड़ी तस्करी पर प्रभावी रूप से रोक लगाई जा सके।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local