0- सूचनाः संक्रमण की स्थिति अभी नहीं... लेकिन आएंगे अभी और केस, कलेक्टर ने ट्वीट कर दी जानकारी

बालोद। नईदुनिया न्यूज

जिले में लगातार भले ही एक-एक करके कोरोना के 18 मामले सामने आ चुके हैं, लेकिन अब तक इसके संक्रमण की स्थिति पैदा नहीं हुई है। यह बात जिले की कलेक्टर रानू साहू ने ट्वीट करके दी है। उन्होंने अपने ट्‌िवटर अकाउंट पर लिखा है कि जिले में कोई प्रकरण ऐसा नहीं है जो एक से दूसरे को फैला हुआ हो। शनिवार तक बालोद में 8500 से अधिक श्रमिक आ चुके हैं। तो वही प्रतिदिन 400 मजदूर रेड जोन से आ रहे हैं। ऐसी स्थिति में और भी पॉजीटिव केस आएंगे, पूरा प्रशासन प्रतिबद्घ है कि यह केस श्रमिकों से ग्रामीणों में ना फैले कलेक्टर ने कहा है कि लगातार रेड जोन से मजदूरों की वापसी हो रही है जो हमारे लिए चुनौती का विषय भी है तो हमें इसका सामना भी करना ही है।

कलेक्टर आइएएस रानू साहून ने कहा कि अब तक जिले में संक्रमण की स्थिति पैदा नहीं हुई है, यह हो भी ना इसलिए लोगों को जागरूक रहना बहुत जरूरी है। अगर संक्रमण की स्थिति होती है, तो परिस्थितियां बहुत ही विकराल रूप ले सकती है। वह परिस्थितियां न आए इसलिए हमें कदम कदम पर फूंक कर चलना होगा, इसलिए उन्होंने लोगों से अपील की है कि अगर जो आ रहे हैं तो वे स्थानीय ग्रामीणों से दूर ही रहे उन्हें क्वारंटाइन के नियमों का अक्षरश पालन करना होगा। कुछ जगह से शिकायत आती है कि लोग ठीक से पालन नहीं करते या फिर क्वारंटाइन सेंटर से भाग जाते हैं। ऐसे लोगों को सख्त चेतावनी दी जा रही है कि वे इस तरह की लापरवाही ना करें उनकी यह लापरवाही दूसरों को भी ले डूबेगी।

प्रवासी मजदूरों को पांच किलो राशन भी देंगे

कलेक्टर रानू साहू ने कहा कि जिन प्रवासी मजदूरों के पास स्वयं का राशन कार्ड नहीं है या अब तक राशन कार्ड नहीं बना पाए हैं या उनका राशन कार्ड बन कर नहीं आया है ऐसे मजदूरों को सरकारी सोसाइटी के माध्यम से 5 किलो तक मुफ्त चावल भी दिया जाएगा जिससे इसी चावल को भी क्वारंटाइन सेंटर में पका सकेंगे। उन्हें खाने को मिल जाएगा, उन्हें बाहर जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

कोटवारों का लगाया गया पहरा ताकि न हो उल्लंघन

क्वारंटाइन सेंटर के बाहर कोटवार व मितानिन का भी पहरा लगा दिया गया है ताकि वहां पर रहने वाले लोग भी नियमों का उल्लंघन ना कर सके और निगरानी भी होती रहे कोटवारों को यह कहा गया है कि अगर कोई उल्लंघन करता है तो तत्काल इसकी खबर पुलिस प्रशासन को दें ऐसे व्यक्ति के खिलाफ तत्काल मामला दर्ज किया जाएगा पिछले दिनों ग्राम पंचायत खरथुली में हैदराबाद से आया हुआ पूर्व सरपंच का बेटा लोकेश कुमार लॉकडाउन का उल्लंघन कर क्वारंटाइन सेंटर का खिड़की तोड़कर भी फरार हो गया था जो घर में जाकर छिपा हुआ था उस युवक के खिलाफ भी पुलिस ने धारा 188 के तहत केस दर्ज कर लिया है कलेक्टर व एसपी दोनों ने लोगों को चेतावनी दी है कि नियम कायदे से चलेंगे तो ही हम कोरोना को नियंत्रित कर सकते हैं नहीं तो स्थिति बहुत ही भयावह हो सकती है वही स्थिति यहां कभी ना आए इसलिए पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन मिलकर पूरी एहतियात बरत रही है इसलिए किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

जिला को रेड जोन में न आने दे

जिला प्रशासन ने कहा है कि शासन ने लगातार जिले के अलग-अलग इलाकों में मिल रहे कोरोना वायरस के केस को देखते हुए रेड ऑरेंज जोन की नई लिस्ट जारी कर दी है जिसमें इस बार पूरे जिले को रेड जोन ना कर ब्लॉक वार जोन तय किए गए हैं। बालोद जिले को पूरी तरह से रेड जोन ना कर लोगों को भी राहत देते हुए जहां कोरोना के ज्यादा केस हैं, जैसे डौंडीलोहारा ब्लॉक को रेड जोन में शामिल किया गया है। इसी तरह जहां कम केस है उनमें बालोद डौंडी ब्लाक को ऑरेंज पर रखा गया है बालोद जिले में गुरुर और गुंडरदेही ब्लॉक फिलहाल ग्रीन जोन में ही हैं लेकिन कभी भी इन इलाकों में कोरोना के केस बढ़ेंगे तो जिला रेड जोन में जा सकता है।

----------

विशेष बीमा कवर के मामले में देवरी

ब्लॉक के पत्रकार अरोरा जी के साथ

फोटोः 11 दिनेश वैष्णव

बालोद। नईदुनिया न्यूज

विगत दिनों प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर प्रिंट मीडिया, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों को 'कोरोना संक्रमण काल' में भी सक्रिय रहकर अपने कर्तव्य का निडरतापूर्वक पालन करते रहने पर 'विशेष बीमा कवर' देने की अनुशंसा की है। इसका जिले के नईदुनिया संस्करण के प्रमुख दीपक अरोरा ने स्वागत करते हुए स्थानीय पत्रकारों को भी इसका लाभ दिए जाने की बात कही है। उसका देवरी ब्लॉक के प्रेस क्लब व छत्तीसगढ़ी श्रमजीवी पत्रकार के संभागीय सचिव विवेक वैष्णव व पत्रकार क्रमशः पारख साहू, केशव शर्मा, दिनेश वैष्णव, राधेश्याम देवांगन तथा रेवाराम साहू ने भी उत्साहित होकर दीपक अरोरा का धन्यवाद करते हुए अपने इस मुहिम में उनके साथ ही जुड़ने का आह्वान किया है। उल्लेखनीय है कि यहां के पत्रकार भी अपने स्तर पर क्षेत्र की जनता तक प्रिंट मीडिया के माध्यम से करोना संक्रमण से लेकर हर खबरों का संकलन व उन तक अखबार पहुंचाने का सतत कार्य कर रहे हैं और वे भी प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री का आभार व्यक्त कर रहे हैं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना