दल्लीराजहरा। नईदुनिया न्यूज

दल्लीराजहरा में गणेश मूर्तियों का हर्षोल्लास के साथ विसर्जन किया गया। गुरुवार रात्रि में भी झिलमिलाती झांकियों का कारवां निकला। सभी राजहरा व आसपास की समितियों में स्थापित गणेश जी की प्रतिमाओं को गाजे-बाजे के साथ और डीजे की धुन पर विसर्जन करने के लिए भक्तों की भीड़ नगर के मुख्य मार्ग से होते हुए पंडर दल्ली स्थित तालाब व डेम साइट पर पहुंची। ग्राम कुसुमकसा में भी अलग-अलग गणेशोत्सव समितियों ने धूमधाम के साथ गणपति विसर्जन किया। इस अवसर पर छोटे बधाों में काफी उत्साह देखने को मिला।

ग्राम बिटाल में बाल युवा गणेश उत्सव समिति, गांधी चौक, बिटाल एवं ग्रामवासियों के सहयोग के साथ मूर्ति का विसर्जन किया गया। विसर्जन में महिलाओं की भी भागीदारी रही। गणपति की विदाई में सभी श्रद्घालुओं के आंखें नम हो रही थी। सभी गणपति बप्पा को अगले बरस तू जल्दी आने के लिए जयकारों के साथ प्रार्थना कर रहे थे। गणेश विसर्जन में समिति के सदस्य छत्तर कोठारी, भीखम, भेलेद, पूष्पेद, ठालेन्द्र, टिकू, लोकेंद्र, बंटी, निलकंठ,तोरण, घना नेताम थे। दल्ली राजहरा से लगे ग्राम चिखली में भी गणपति विसर्जन की धूम रही।